Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

CM बनने की चर्चा के बीच सचिन पायलट के जयपुर आवास पर पहुंचा बुलडोजर, जानिए पूरा मामला

जयपुर
राजस्थान के सीएम पद के प्रबल दावेदार माने जाने वाले पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट के सरकारी आवास पर बुलडोजर पहुंच गया। दरअसल, बुलडोजर को कचरा संग्रहण के लिए राजभवन जाना था। लेकिन वह पायलट के आवास पर पहुंच गया। सचिन पायलट निवास पर मौजूद लोगों ने उसे इसके लिए मना किया। हालांकि, बाद में पता लगा कि यह बुलडोजर राजभवन में सफाई के लिए जा रहा था, जो पायलट के निवास को राजभवन समझ गया और गलती से उसमें प्रवेश करने लगा। गलती का एहसास होने के बाद यह बुलडोजर पायलट निवास से रवाना हो गया। पायलट निवास पर आज अजीबोगरीब घटनाक्रम से सब हतप्रभ हो गए। जब उनके गेट के बाहर एक बुलडोजर आकर खड़ा हो गया और उसने सचिन पायलट के आवास में जाने का प्रयास किया। 
विधायकों से मिल रहे हैं पायलट

सचिन पायलट आज सुबह से ही अपने आवास पर अपने समर्थकों से मिल रहे है। सचिन पायलट से आज गहलोत समर्थक माने जाने वाले परसराम मोरदिया और अमीन खान ने मुलाकात की है। दोनों विधायक कट्टर गहलोत समर्थक माने जाते हैं। चर्चा है कि सचिन पायलट पार्टी आलाकमान के निर्देश पर विधायकों से मुलाकात कर रहे हैं। सचिन पायलट ने दिल्ली से लौटते ही सबसे पहले कांग्रेस विधायकों से मिलना शुरू किया है। हालांकि, गहलोत समर्थक विधायक खुलकर पायलट से नहीं मिल रहे है। लेकिन कई विधायक ऐसे है जो खुलकर पायलट से मिल रहे हैं। 

सीएम बदलने का विरोध

शुक्रवार को सचिन पायलट ने विधानसभा में कांग्रेस विधायकों से मुलाकात की। सचिन पायलट समर्थक माने जाने वाले विधायक इंद्राज गुर्जर, जीआर खटाना, हरीशचंद्र मीना,  वेदप्रकाश सोलंकी, राकेश पारीक, खुशवीर, दीपेंद्र सिंह शेखावत उनके साथ रहे। हालांकि, सीएम गहलोत का कहना है कि राज्य का सीएम कौन होगा इसका फैसला पार्टी आलाकमान और प्रदेश प्रभारी अजय माकन करेंगे। गहलोत समर्थक विधायक  कांग्रेस अध्यक्ष के साथ-साथ सीएम पद पर बने रहने की मांग कर रहे हैं। सीएम सलाहकार सयम लोढ़ा और मंत्री सुभाष गर्ग ने खुलकर सीएम बदलने का विरोध किया है। जबकि पायलट समर्थक माने जाने विधायक वेदप्रकाश सोलंकी ने पायलट समर्थकों से शांति बनाए रखने की अपील की है।