Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

2 साल बाद सितंबर में होगा भामाशाह सम्मान

  • 12 अगस्त तक कर सकेंगे आवेदन, दानदाताओं को मिलेगा विशेष एडमिशन कोटा
    जयपुर.
    राजस्थान में शिक्षा विभाग द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में योगदान करने वाले भामाशाहों को अब उच्च सम्मान मिलेगा। एक लाख रुपए से लेकर एक करोड़ या इससे अधिक के दान पर शिक्षा विभूषण, शिक्षा भूषण और शिक्षा श्री सम्मान से नवाजा जाएगा। जिसके लिए प्रदेशभर के दानदाता ज्ञान संकल्प पोर्टल पर जाकर 12 अगस्त तक आवेदन कर सकते है। इसके बाद सितंबर में राज्य और जिला स्तरीय भामाशाह सम्मान समारोह आयोजित किया जाएगा।
    भामाशाहों को जोड़ने के लिए विशेष पहल
    शिक्षा विभाग ने इस बार स्कूलों में भामाशाहो को जोड़ने के लिए विशेष तैयारी की है। महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम की सरकारी स्कूलों में भामाशाओं को स्कूलों में प्रवेश में प्रवेश का कोटा तय किया है। जिसमे 50 लाख रुपए तक के विकास कार्य कराने पर प्रत्येक कक्षा में 2 और स्कूल में अधिकतम 10 सीटों पर एडमिशन करवा सकते है। वहीं सम्मान में भी इस बार 15 लाख से 1 करोड़ रुपए तक के दान पर शिक्षा भूषण और एक करोड़ रुपए से अधिक के दान पर शिक्षा विभूषण सम्मान दिया जाएगा। वहीं एक लाख से 15 लाख रुपए तक के दान पर जिला स्तर पर शिक्षा श्री सम्मान प्रदान किया जाएगा।
    बता दे कि प्रारंभिक शिक्षा विभाग की और से इस बार राज्य स्तरीय सम्मान जयपुर और जिला मुख्यालयों पर जिला स्तरीय समारोह होगा। शिक्षा क्षेत्र में राजकीय कॉलेज, विद्यालयों, शिक्षण संस्थाओं के शैक्षिक, सह शैक्षिक और भौतिक विकास के लिए वित्तीय वर्ष 2019-20, 2020-21 और 2021-22 में एक अप्रेल 2019 से 31 मार्च 2022 की अवधि में सहयोग करने वाले दानदाता और भामाशाहों को राज्य स्तरीय भामाशाह सम्मान समारोह में सम्मानित किया जाएगा।