Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

1 जनवरी से 6 देशों के लिए RT-PCR टेस्ट जरूरी:72 घंटे पुरानी निगेटिव रिपोर्ट देनी होगी; स्वास्थ्य मंत्री की फार्मा कंपनियों के साथ मीटिंग शुरू

नई दिल्ली. भारत में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच चीन समेत 6 देशों से आने वाले यात्रियों पर अगले हफ्ते से सख्ती बढ़ाई जाने की तैयारी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा है कि चीन, जापान, दक्षिण कोरिया, हॉन्गकॉन्ग, थाईलैंड और सिंगापुर से आने वाले पैसेंजर्स के लिए 1 जनवरी 2023 से निगेटिव RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट अनिवार्य कर दिया गया है।

इन पैसेंजर्स को यात्रा से पहले अपनी 72 घंटे पुरानी निगेटिव RT-PCR टेस्ट रिपोर्ट एयर सुविधा पोर्टल पर अपलोड करनी होगी। इधर, आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कोरोना की एडवांस तैयारियों को लेकर मनसुख मांडविया और फार्मा कंपनियों के बीच वर्चुअल मीटिंग शुरू हो चुकी है।

सीरम इंस्टीट्यूट केंद्र सरकार को कोवीशील्ड के 2 करोड़ डोज मुफ्त देगा
इधर, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने केंद्र सरकार को कोवीशील्ड की दो करोड़ डोज फ्री देने के कहा है। SII में सरकार और नियामक मामलों के डायरेक्टर प्रकाश कुमार सिंह ने इस मामले पर स्वास्थ्य मंत्रालय को लेटर लिखा है। लेटर में उन्होंने 410 करोड़ रुपए की फ्री डोज देने की बात कही है।

कंपनी ने चीन समेत कई देशों में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी के बीच यह फैसला लिया है। सूत्रों के मुताबिक, डायरेक्टर प्रकाश कुमार ने लेटर के जरिए मंत्रालय से पूछा कि कोवीशील्ड की डिलीवरी कैसे की जाए? बता दें कि SII वैक्सीनेशन प्रोग्राम के तहत भारत में अब तक कोवीशील्ड की 170 करोड़ से अधिक डोज दे चुका है।

पहले देश में कोरोना के अब तक के अपडेट्स पढ़ें…

  • एयर इंडिया एक्सप्रेस ने UAE से आने वाले पैसेंजर्स के लिए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग अनिवार्य कर दिया है।
  • हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, देश में कोरोना वैक्सीनेशन का आंकड़ा 220 करोड़ डोज को पार कर गया है।
  • बिहार में कोरोना केसेस में 10 गुना की बढ़ोतरी हुई है। राज्य स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, राज्य में रविवार तक कोई भी एक्टिव केस नहीं था। अब यहां केसों की संख्या 14 है। इनमें से 12 अकेले गया में हैं।
  • उत्तराखंड सरकार ने राज्य के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों में मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है। सभी को सैनिटाइजर-थर्मल स्क्रीनिंग का इस्तेमाल करना होगा। बिना मास्क के स्कूल में एंट्री नहीं दी जाएगी।

भारत के लिए अगले 40 दिन मुश्किल
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि जनवरी के मध्य में भारत में कोरोना के मामले बढ़ सकते हैं। पिछले ट्रेंड्स के एनालिसिस के बाद यह माना जा रहा है कि अगले 40 दिन देश के लिए मुश्किल होंगे। सूत्रों के मुताबिक, देश में कोरोना की एक और लहर आ सकती है। ऐसे में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में स्वास्थ्य सुविधाओं की समीक्षा की जा रही है। दरअसल, ऐसा देखा गया है कि ईस्ट एशिया को प्रभावित करने के 30 से 35 दिनों बाद ही भारत में नई लहर पहुंची थी। यह एक ट्रेंड रहा है, जिसके आधार पर यह दावा किया जा रहा है।