Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

सुनसान सड़कों पर लूटपाट करने वाले 3 लुटेरे गिरफ्तार:दो नाबालिग को भी पकड़ा, बाइक सवारों से पर्स छीनकर भागते थे

श्रीगंगानगर. श्रीगंगानगर की सदर थाना पुलिस ने मंगलवार देर शाम शहर से बाहर जाने वाले सुनसान सड़कों पर बाइक सवार लोगों से लूटपाट करने के आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए तीन आरोपियों ने मिर्जेवाला रोड पर लूट की वारदात की थी। इनके साथ दो नाबालिग भी पकड़े गए हैं। ये पांच लोग लूट की वारदात को अंजाम देते थे और राहगीरों से पर्स, मोबाइल आदि छीन लेते थे। पुलिस को दिसंबर के अंतिम पखवाड़े में इस संबंध में दो शिकायत मिली थी।

16 दिसंबर को मिर्जेवाला के शौकीन पुत्र असलम खान ने मामला दर्ज करवाया था। आरोप लगाया गया था कि 13 दिसंबर को वह अरशद खान के साथ श्रीगंगानगर से मिर्जेवाला लौट रहा था। सात जैड रेलवे फाटक के पास से एक बाइक पर सवार पांच लोगों ने उनका पीछा करना शुरू कर दिया। कुछ दूरी पर पहुंचकर लोगों ने बाइक रुकवा ली और चाबी निकालकर मारपीट करना शुरू कर दिया। आरोपी मोबाइल,पर्स और सात से आठ हजार रुपए छीनकर ले गए।

गांव मिर्जेवाला के ही एंथनी पुत्र बाबूलाल ने भी मंगलवार को इसी तरह का मामला दर्ज करवाया था। रिपोर्ट में कहा था कि वह 26 दिसंबर की रात साढ़े दस बजे अपने ताऊ के लड़के अमित पुत्र नीकूराम के साथ श्रीगंगानगर से मिर्जेवाला लौट रहा था। इसी दौरान मोटरसाइकिल सवार चार युवकों ने उन्हें रोक लिया और मारपीट कर मोबाइल, पर्स तथा पहनी जैकेट छीनकर ले गए।

इन्हें किया गिरफ्तार
इस संबंध में आरोपी चूनावढ़ थाना क्षेत्र के गांव सात जी छोटी निवासी जसप्रीत पुत्र सुखदेव राम, गांव 23 जीजी चूनावढ़ कोठी निवासी अर्शदीप सिंह उर्फ कालू पुत्र लखविंद्र सिंह उर्फ लक्खा और अजय पुत्र ओमप्रकाश को गिरफ्तार किया गया। इनके साथ घटना में शामिल रहे दो नाबालिगों को भी पकड़ा गया है। इन लोगों ने वारदातें करना स्वीकार किया है।

ऐसे पकड़े गए आरोपी
पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए तलाश शुरू की। श्रीगंगानगर में मिर्जेवाला फाटक तथा जिस जगह पर घटनाएं हुई वहां के आसपास के इलाके में तलाश शुरू की। मुखबिरों के जरिए सूचनाएं जुटाईं और ऐसे मामलों में शामिल रहे लोगों का पता लगाया तो आरोपियों के घटनाएं करने का पता लगा। शक पुख्ता होने पर तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।