Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

सुकन्या समृद्धि योजना में तपोवन ट्रस्ट बनेगा सहयोगी:10 साल तक की 500 बच्चियों की शादी और पढ़ाई में आएगा काम

श्रीगंगानगर

केंद्र सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना में श्रीगंगानगर का तपोवन ट्रस्ट सहयोगी बनेगा। ट्रस्ट पदाधिकारियों ने इलाके की बच्चियों को संबल प्रदान करने और उन्हें इस योजना से जोड़ने के लिए यह प्रयास किया है। ट्रस्ट अध्यक्ष महेश पेड़ीवाल ने शनिवार को ट्रस्ट परिसर में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि ट्रस्ट जरूरतमंद बच्चियों के सहयोग के लिए प्रयास कर रहा है। जिससे कि 18 साल की होने पर बच्ची को पढ़ाई के लिए बड़ी राशि मिल सके अथवा यदि माता-पिता उसका विवाह करना चाहें तो भी उन्हें काफी बड़ा सहयोग मिल सके।
बच्ची के खाते में जमा करवाएंगे 250 रुपए

ट्रस्ट अध्यक्ष पेड़ीवाल ने बताया कि बच्ची को आर्थिक सहयोग के लिए योजना चलाई गई है। इसे उसकी शादी अथवा पढ़ाई में उपयोग किया जा सकता है। एक से दस साल तक की बच्ची के खाते में हर माह 250 रुपए जमा करवाए जाने हैं। तपोवन ट्रस्ट एक से दस साल तक की 500 बच्चियों के खाते खुलवाएगा और इसमें पहली किस्त के 250 रुपए जमा करवाए जाएंगे।

टस्ट की अपेक्षा है कि इसके बाद की किस्तों के रुपए प्रति माह संबंधित परिवार के माता-पिता वहन कर लेंगे। जिस बच्ची के माता और पिता दोनों की ही मौत हो चुकी हो उसके खाते में पूरे 14 साल यह राशि तपोवन ट्रस्ट ही जमा करवाएगा। यदि किसी पेरेंट्स ने पहली किस्त जमा करवाने के बाद दूसरी और बाद की किस्तें जमा नहीं करवाईं तो ऐसे खातों को चालू रखने के लिए ट्रस्ट एक साल फिर से इसकी पहली किस्त जमा करवा देगा।

इस एवज में लगने वाली पैनेल्टी राशि भी ट्रस्ट जमा करवाएगा। पेड़ीवाल ने कहा कि इसके लिए ट्रस्ट दिसम्बर में कैंप लगवाएगा। हमारा उद्देश्य सरकार की योजना से बच्चियों को जोड़ना और उन्हें आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाना है जिससे वे 18 साल की होने पर उच्च शिक्षा ले सकें अथवा यदि उनके परिजन चाहे तो इस राशि को उसके विवाह में उपयोग कर सकें।