Saturday, December 10निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

श्रीगंगानगर में जुटेंगे ख्यातनाम साहित्यकार:जिला साहित्यकार सम्मेलन 19 से, साहित्य अकादमी अध्यक्ष सहारण और कवि कर्मचंदाणी आएंगे

श्रीगंगानगर. अगर आप साहित्य में रुचि रखते हैं तो आने वाले शनिवार और रविवार आपके लिए बेहद उपयोगी होंगे। इस दौरान श्रीगंगानगर जिला साहित्यकार सम्मेलन होगा। इसमें श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ सहित प्रदेश के कई प्रसिद्ध साहित्यकारों की भागीदारी रहेगी। कार्यक्रम का आयोजन उन्नीस ओर बीस नवम्बर को श्रीगंगानगर के चितलांगिया भवन में होगा।

साहित्य अकादमी अध्यक्ष आएंगे

कार्यक्रम का आयोजन उदयपुर की राजस्थान साहित्य अकादमी और सृजन सेवा संस्थान की ओर से होगा। इसमें अकादमी अध्यक्ष डॉ. दुलाराम सहारण और जयपुर से प्रसिद्ध कवि हरीश करमचंदाणी आएंगे। सृजन के अध्यक्ष डॉ. अरुण शहैरिया ‘ताइर’ ने बताया कि 19 नवंबर को सुबह साढ़े दस बजे उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि विधायक राजकुमार गौड़ होंगे। अध्यक्षता अकादमी के अध्यक्ष डॉ. दुलाराम सहारण करेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में जयपुर से कवि हरीश करमचंदाणी और साहित्य अकादमी से पुरस्कृत कथाकार डॉ. भरत ओला होंगे।

पहले सेशन में दोपहर 12 बजे ‘विशिष्ट पहचान बनाता श्रीगंगानगर जिले का बाल साहित्य’ विषय पर साहित्य अकादमी से बाल साहित्य पुरस्कार प्राप्त बालकथाकार डॉ. कीर्ति शर्मा का पत्रवाचन होगा। मुख्य अतिथि नोजगे पब्लिक स्कूल के चेयरमैन डॉ. पीएस सूदन होंगे। अध्यक्षता साहित्य अकादमी से बाल साहित्य पुरस्कार प्राप्त बालकथाकार गोविंद शर्मा करेंगे। विशिष्ट अतिथि साहित्य अकादमी से पुरस्कृत दीनदयाल शर्मा होंगे।

काव्य यात्रा पर होगा पत्र वाचन
सैकिंड सेशन शाम चार बजे होगा। इसमें ‘श्रीगंगानगर जिले की काव्य यात्रा’ विषय पर डॉ. बबीता काजल का पत्रवाचन होगा। मुख्य अतिथि साहित्य अकादमी से पुरस्कृत कवि डॉ. मंगत बादल होंगे। अध्यक्षता हिंदी एवं राजस्थानी के वरिष्ठ कवि निशांत करेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में हिंदी एवं राजस्थानी के वरिष्ठ कवि डॉ. हरिमोहन सारस्वत होंगे ।

कवि बिखेरेंगे कविता के रंग
शनिवार रात को ही साढ़े आठ बजे विशेष सत्र में श्री रामदेव चितलागिया स्मृति काव्य संध्या होगी। इसमें मुख्य अतिथि सेठ सुगनचंद चितलांगिया चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष विक्रम चितलांगिया होंगे। अध्यक्षता श्री गोपीराम गोयल चेरिटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष विजयकुमार गोयल करेंगे। विशिष्ट अतिथि के रूप में भादरा के पवन शर्मा मौजूद रहेंगे।

20 नवंबर को सुबह साढ़े दस बजे थर्ड सेशन होगा। इसमें ‘श्रीगंगानगर का कथा साहित्य : एक दृष्टि ‘ विषय पर डॉ. आशाराम भार्गव पत्रवाचन करेंगे। मुख्य अतिथि कवयित्री डॉ. नवज्योत भनोत होंगी। अध्यक्षता राजस्थान साहित्य अकादमी, उदयपुर से पुरस्कृत कथाकार श्रीमती नीलप्रभा भारद्वाज करेंगी। विशिष्ट अतिथि भूपेंद्रसिंह होंगे। समापन सत्र दोपहर 12.30 बजे होगा। इसमें मुख्य अतिथि टांटिया विश्वविद्यालय के वाइस चेयरमैन डॉ. मोहित टांटिया होंगे। अध्यक्षता श्रीगंगानगर सैन्य छावनी में कर्नल और वरिष्ठ कवि कर्नल पंकजसिंह करेंगे।