Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

शिक्षक भर्ती के लिए लम्बा होता जा रहा इंतजार

  • अभ्यर्थियों के सामने खड़ी हुई ये चुनौती!
    जयपुर.
    प्रदेश में 46 हजार 500 पदों पर आयोजित होने जा रही शिक्षक भर्ती को लेकर बेरोजगारों में असमंजस्य की स्थिति बनी हुई है. रीट परीक्षा परिणाम के बाद राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा 4 और 5 फरवरी को परीक्षा की प्रस्तावित तिथि भी जारी भी कर दी, लेकिन अभी तक शिक्षक भर्ती की विज्ञप्ति जारी नहीं होने से लाखों अभ्यर्थियों के सामने ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है. बोर्ड की ओर से जारी की गई प्रस्तावित परीक्षा तिथि में अब 2 महीने से भी कम समय बचा है, ऐसे में प्रदेश के लाखों बेरोजगारों ने जल्द से जल्द परीक्षा विज्ञप्ति के साथ ही परीक्षा की नियत तिथि भी जारी करने की मांग तेज कर दी है.
    गौरतलब है की माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से 23 और 24 जुलाई 2022 को 46 हजार 500 पदों पर रीट अध्यापक पात्रता परीक्षा का आयोजन किया गया था, रीट लेवल प्रथम और रीट लेवल द्वितीय में करीब 15 लाख से ज्यादा परीक्षार्थियों ने हिस्सा लिया था. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से परीक्षा के करीब तीन महीनों के बाद ही 29 सितम्बर को रीट परीक्षा का परिणाम जारी किया गया.
    रीट पात्रता परीक्षा में लेवल द्वितीय में जहां करीब 6 लाख अभ्यर्थी पास हुए. वहीं लेवल 1 में करीब 2 लाख अभ्यर्थी शिक्षक भर्ती के लिए पात्र हुए. माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा 29 सितम्बर को परिणाम जारी करने के अगले दिन 30 सितम्बर को राजस्थान कर्मचारी चयन द्वारा शिक्षक भर्ती की प्रस्तावित तिथि 4 और 5 फरवरी जारी कर दी गई, लेकिन करीब 60 दिनों से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद भी शिक्षक भर्ती का विज्ञप्ति जारी नहीं होने से अब सफल अभ्यर्थियों में असमंजस की स्थिति बनती जा रही है.
    46 हजार 500 पदों पर निकाली गई भर्ती का इंतजार
    राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ अध्यक्ष उपेन यादव का कहना है कि 46 हजार 500 पदों पर निकाली गई भर्ती का इंतजार लगातार लम्बा होता जा रहा है.,कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा शिक्षक भर्ती की प्रस्तावित तिथि 4 और 5 फरवरी को जारी कर दी है.लेकिन अभी तक विज्ञप्ति जारी नहीं होने से अब लगता नहीं है कि ये परीक्षा तय तिथि पर आयोजित हो सकती है. विज्ञप्ति जारी करने के साथ ही नियत परीक्षा तिथि जारी करने की मांग को लेकर 9 दिसम्बर को कर्मचारी चयन बोर्ड अध्यक्ष से मुलाकात कर जल्द से जल्द स्थिति स्पष्ट करने की मांग की जाएगी.
    6 महीने से ज्यादा का वक्त बीता
    रीट लेवल द्वितीय में सफल अभ्यर्थी देवेन्द्र शर्मा का कहना है कि राजस्थान में कोई भी भर्ती हो उसको पंचवर्षीय योजना बनाकर रख दिया जाता है.,पहले रीट परीक्षा 2021 में हुई ,उसको रद्द कर दिया गया और अभी भी परीक्षा को हुए करीब 6 महीने का समय बीत चुका है, लेकिन अभी तक शिक्षक भर्ती का कोई अता-पता नहीं है, इसके साथ ही लेवल द्वितीय में पदों की संख्या को भी कम कर दिया गया है,जिससे अभ्यर्थी तनाव में है।