Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

शहरी क्षेत्र में पहुंची जनआक्रोश यात्रा, बताई राज्य सरकार की नाकामियां

  • बैजनाथ सागरमल बिहाणी मार्केट की दुकानों का भी मुद्दा उठा
    हनुमानगढ़ (सीमा सन्देश न्यूज)।
    जनता के बीच सरकार की विफलताओं को लेकर भारतीय जनता पार्टी की ओर से कांग्रेस सरकार के खिलाफ निकाली जा रही जन आक्रोश यात्रा का रथ मंगलवार को जिला मुख्यालय पर जंक्शन स्थित शहीद भगतसिंह चौक पर पहुंचा। यहां रेलवे स्टेशन रोड पर विधानसभा क्षेत्र के शहरी क्षेत्र की पहली नुक्कड़ सभा की गई। सभा में वक्ताओं ने राजस्थान सरकार की नाकामियों के बारे में बताया और कांग्रेस सरकार को जड़ से उखाड़ फेंकने की बात कही। पूर्व मंत्री डॉ. रामप्रताप ने कहा कि जनता में कांग्रेस सरकार के खिलाफ आक्रोश और गुस्सा है वह बेवजह नहीं है। उसका इजहार करने के लिए यह यात्रा निकाली जा रही है। हर पेपर लीक हो रहा है। बच्चों की मिट्टी मेहनत में मिल रही है। उन्होंने रेलवे स्टेशन रोड पर स्थित बैजनाथ सागरमल बिहाणी मार्केट की दुकानों का भी मुद्दा उठाते हुए कहा कि दुकानदारों को पिंजरे में बंद कर बैठा रखा है। यह बड़े शर्म की बात है। साथ ही थड़ी वालों को हटाने पर पूर्व मंत्री का कहना था कि भाजपा का राज आने पर इन लोगों को सही जगह पर बैठाया जाएगा। पूर्व मंत्री डॉ. रामप्रताप ने कहा कि कांग्रेस ने राजस्थान को 4 साल में अपराध, महंगी बिजली, महंगा पेट्रोल-डीजल देकर व किसानों की कर्ज माफी का झूठा वादा कर, बेरोजगारी भत्ता नहीं देकर धोखा दिया है। आगामी साल होने वाले विधानसभा चुनावों में जनता को अपनी ताकत का सही तरीके से इस्तेमाल करना होगा। राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार का तीन बातों से नाता है। पहला भ्रष्टाचार, दूसरा व्यभिचार और तीसरा दलितों से अत्याचार। चौधरी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार भाजपा शासन की योजनाओं को नाम बदलकर खुद का विकास बताने में जुटी है। अमित सहू ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलेट के बीच वर्चस्व की लड़ाई का मुद्दा उठाते हुए कहा कि कांग्रेस की आपसी फूट से प्रदेश का विकास थम गया है। विकास रुका हुआ पड़ा है। कांग्रेस के जिम्मेदारों में चली आ रही खींचतान हर आम आदमी के लिए परेशानी बनी हुई है। अनिल गक्खड़ ने कहा कि नहरों का पानी टेल तक नहीं पहुंच रहा। बहुत से ऐसे गांव हैं, जहां नहरों का पानी नहीं पहुंचा है। वहां खेतों में बुवाई भी नहीं हुई, लेकिन विधानसभा में भी मुद्दा उठाने के बावजूद भ्रष्ट मंत्रियों वाली सरकार में लोगों के काम नहीं हो रहे। सभा में नगर परिषद के पूर्व सभापति राजकुमार हिसारिया, राजकुमार तंवर, भारत भूषण शर्मा, खेमचंद तेजवानी, पार्षद बलराज सिंह दानेवालिया, स्वर्णसिंह, हिमांशु महर्षि, सुनील अमलानी, जीतू वर्मा, नगर मण्डल अध्यक्ष पवन श्रीवास्तव, कृष्ण तायल, महंगासिंह ढिल्लों, कृष्णा पूनिया, प्रेम पेशवानी, ओम सोनी, दलीप कस्वां, अरुण खिलेरी, अरविन्द सोनी, प्रदीप कड़वा, आनंद मोहन शर्मा, मनोज कुमार, ओम सारस्वत आदि मौजूद रहे। रेलवे स्टेशन रोड पर सभा के बाद जनआक्रोश यात्रा का रथ शहीद भगतसिंह चौक से होते हुए संगरिया रोड, राजीव चौक, बस स्टैंड सहित अन्य जगहों पर घुमा।