Tuesday, December 6निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

वेस्ट जोन को चैंपियन बनाने के बाद अजिंक्य रहाणे ने कहा- भारतीय टेस्ट टीम में जगह पाने के लिए घरेलू क्रिकेट में अच्छा करना जरूरी

नई दिल्ली
भारतीय टेस्ट टीम से बाहर चल रहे टीम इंडिया के बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि फ्यूचर में भारत के लिए टेस्ट क्रिकेटर्स चुनने में रणजी ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी जैसे घरेलू टूर्नामेंटों में खिलाड़ियों का अच्छा प्रदर्शन करना जरूरी है। रहाणे की कप्तानी में वेस्ट जोन ने साउथ जोन को हराकर रविवार को दलीप ट्रॉफी का खिताब अपने नाम किया। वेस्ट जोन ने पहली पारी में पिछड़ने के बाद शानदार वापसी करके फाइनल में साउथ जोन 294 रन से करारी शिकस्त देकर दलीप ट्रॉफी क्रिकेट टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया। इसके साथ ही वेस्ट जोन ने रिकॉर्ड 19वीं बार दिलीप ट्रॉफी पर कब्जा जमाया है। 
हाणे ने मैच के बाद कहा, ”’यहां की सुविधाएं काफी अच्छी है। प्रैैक्टिस विकेट शानदार थी। हमने यहां बेहतरीन समय बिताया। मुझे लगता है कि जोनल क्रिकेट उन खिलाड़ियों के लिए बहुत अच्छा है, जोकि अपने राज्य के लिए शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। भविष्य में भारतीय टेस्ट क्रिकेटरों को चुनने के लिए रणजी ट्रॉफी, ईरानी ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी बहुत महत्वपूर्ण हैं।” 

इस मैच के दौरान एक अजीबो-गरीब घटना देखने को मिली जब वेस्ट जोन के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने अपनी टीम के साथी खिलाड़ी यशस्वी जायसवाल को मैदान से बाहर किया। रहाणे के यह फैसला अंपायर के कहने पर लेना पड़ा।