Tuesday, December 6निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

विद्यार्थियों की सेहत सुधारने के लिए काम करेगा प्रशासन

श्रीगंगानगर (सीमा सन्देश)। जिले के 0 से 5 वर्ष के बच्चों और विद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों की सेहत सुधारने के लिए जिला प्रशासन मिशन मोड में काम करेगा। इसके तहत जिला कलक्टर सौरभ स्वामी के नेतृत्व में शिक्षा, स्वास्थ्य और महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संयुक्त रूप से स्वस्थ गंगानगर मिशन चलाया जाएगा।
शुक्रवार दोपहर बाद कलेक्ट्ररेट सभागार में आयोजित बैठक में जिला कलक्टर ने स्वस्थ श्रीगंगानगर मिशन की जानकारी देते बताया कि मुख्य सचिव के निर्देशों की पालना में बच्चों और किशोर-किशोरियों के स्वास्थ्य एवं पोषण जांच उपचार हेतु चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग और शिक्षा विभाग द्वारा सामूहिक रूप से मिशन मोड पर कार्य किया जाना है। इस अभियान के दौरान मुख्यत: सीएचडी, क्लिफट लिप, विजन इंपेयरमेंट, एनीमिया, मैम-सेम, टीकाकरण आदि हेतु सर्वे, स्क्रीनिंग, पहचान, उपचार और फॉलोअप निरंतर किया जाना है।
उन्होंने बताया कि सर्वे कार्य हेतु विभाग द्वारा संचालित एमसीएचएन दिवस, आरबीएसके टीम, मोबाइल मेडिकल वैन/यूनिट, शक्ति दिवस, अम्मा कार्यक्रम, स्कूल हेल्थ कार्यक्रम आदि उपयोग किया जाएगा। साथ ही आंगनवाड़ी कार्यकतार्ओं, सहायिका, आशा सहयोगिनी, एएनएम, सीएचओ, आरबीएसके मोबाइल हेल्थ टीम, अध्यापकों, आरकेएसके कार्यक्रम में कार्यरत प्री एजुकेटर, स्वास्थ्य मित्र आदि का उपयोग करते हुए जिलेवार समेकित कार्य योजना बनाई जाएगी।
उन्होंने निर्देश दिए कि शिक्षा, स्वास्थ्य और महिला एवं बाल विकास विभाग संयुक्त रूप से स्वस्थ गंगानगर मिशन के तहत गंभीरतापूर्वक कार्य करते हुए ब्लॉक वाईज कैम्प लगाकर सर्वे रिपोर्ट तैयार करें। इस कार्य में कोई लापरवाही नहीं बरती जाए।
इससे पूर्व जिला कलक्टर ने ई-मित्रा संचालकों के साथ हुई बैठक में निर्देश दिये कि जिले के अधिकाधिक एसएमएफ (लघु सीमांत किसानों) को जनआधार कार्ड से जोड़ा जाये ताकि उन्हें मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना सहित अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ मिल सके।
इस अवसर पर सहायक कलक्टर (फास्ट ट्रेक) आईएएस (प्रशिक्षु) प्रतीक जुईकर, एसडीएम मनोज कुमार मीणा, सीएमएचओ डॉ. मनमोहन गुप्ता, डॉ. मुकेश मेहता, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी पन्नालाल कड़ेला, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक गिरजेशकांत शर्मा, सांख्यिकी विभाग के सहायक निदेशक गिरिराज प्रसाद मीणा, डीओआईटी की उपनिदेशक श्रीमती रूचि गोयल, तहसीलदार तनवीर संधू, उद्यान विभाग की सहायक निदेशक श्रीमती प्रीति बाला गर्ग सहित अन्य मौजूद रहे।