Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

रॉबर्ट वाड्रा जमीन प्रकरण: सतीश पूनिया की गहलोत से मांग

  • पीड़ित किसानों को न्याय दिलाए सरकार
    जयपुर।
    कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा से जुड़ी 125 बीघा जमीन आवंटन मामले में एक बार फिर बीजेपी मुखर हो गई है। हाईकोर्ट में स्काई लाइट के मैनेजर के ड्राइवर की ओर से पेश की गई याचिका खारिज होने के बाद अब बीजेपी ने इस मामले में गहलोत सरकार से पीड़ित किसानों को न्याय देने की मांग करते हुए उनकी जमीन वापस किसानों को दिलाने की मांग भी की है।
    प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष सतीश पूनिया ने आज मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी और भ्रष्टाचार का पुराना नाता है, हाईकोर्ट में किसानों की 125 बीघा जमीन आवंटन मामले में याचिका निरस्त हो गई है और इससे साफ है कि सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा को सरकार ने सारे नियम कायदे ताक पर रखकर फायदा पहुंचाया था और अब यह भी साफ हो चुका है कि 125 बीघा जमीन से कहीं न कहीं रॉबर्ट वाड्रा की संलिप्तता है, इसलिए सरकार को अब पीड़ित किसानों को न्याय दिलाना चाहिए।
    दरअसल गहलोत सरकार के दूसरे कार्यकाल में 125 बीघा जमीन आवंटित हुई थी। सतीश पूनिया ने कहा कि हाईकोर्ट ने इस मामले में सुनवाई जारी रखने का फैसला किया है। लूट का खेल राजस्थान में खेला जा रहा है, यह किसानों की जमीन हड़पने के अलावा और कुछ नहीं है। सुचिता और नैतिकता की बात करने वाले मुख्यमंत्री रॉबर्ट वाड्रा के जमीन हड़पने के मामले में अपनी चुप्पी कब तोड़ेंगे और किसानों को उनकी जमीन वापस कब दिलाएंगे।
    55 साल कांग्रेस ने देश को लूटा
    सतीश पूनिया ने कहा कि कांग्रेस पार्टी को देश में 55 साल तक राज करने का मौका मिला। पंडित नेहरू से लेकर मनमोहन सिंह सरकार तक कई भ्रष्टाचार के बड़े घोटाले सामने आए हैं। बोफोर्स तोप घोटाले, 2ॠ स्पेक्ट्रम और भी कई बड़े घोटाले देश में हुए थे। 2014 में देश की जनता ने भ्रष्टाचारी कांग्रेस को जड़ से उखाड़ फेंका है।
    जमीन घोटाले के मामले में राहुल गांधी भी दें बयान
    सतीश पूनिया ने कहा कि 125 बीघा जमीन प्रकरण में सोनिया गांधी के दामाद राहुल गांधी की संलिप्तता है, अब इस मामले में राहुल गांधी को भी बयान देना चाहिए या तो इस मामले को झूठा साबित करना चाहिए या फिर जो किसानों कीजमीन हड़पी गई है उसे वापस किसानों को दिलाने का बड़ा दिल राहुल गांधी को दिखाना चाहिए। पूनिया ने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी से कई सवाल पूछे गए थे, लेकिन राहुल गांधी ने एक भी सवाल का जवाब नहीं दिया, उन सवालों का जवाब अब गहलोत सरकार को भी देना चाहिए।
    भगवान राम से राहुल गांधी की तुलना गलत
    वहीं कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद की ओर से राहुल गांधी की तुलना भगवान राम से की जाने को लेकर आपत्ति जाहिर करते हुए सतीश पूनिया ने कहा कि भगवान राम के बारे में कांग्रेस की भावना बदलती रहती है, कांग्रेस को श्री राम के नाम पर एतराज है, राम जन्मभूमि के नाम पर एतराज है, जिस पार्टी के नेता भगवान के राम के अस्तित्व को नकारते रहे हैं, ऐसे लोग अब राहुल गांधी की तुलना भगवान राम से कर रहे हैं भगवान राम से तुलना करना सही नहीं है।
    पेपर लीक मामले की सीबीआई जांच हो
    राजस्थान में पेपर लीक मामले को लेकर सतीश पूनिया ने कहा कि पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से होनी चाहिए। पहले भी कई परीक्षाओं के पेपर लीक हुए हैं, इस मामले में सरकार से निष्पक्ष जांच की उम्मीद नहीं है इसलिए सीबीआई को इस मामले की जांच करनी चाहिए। सतीश पूनिया ने कहा कि अब यह केवल अपराध नहीं बल्कि पाप है, बार-बार पेपर आउट होने से नौजवान अब सुसाइड कर रहा है।