Wednesday, February 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

राजस्थान में शीतलहर, कोहरे का अलर्ट:पहाड़ों से आ रही बर्फीली हवा, 2 डिग्री तक गिरा तापमान; रेगिस्तान में भी ठंड बढ़ी

जयपुर. पहाड़ों से आ रही बफीर्ली हवाओं ने राजस्थान में कड़ाके की सर्दी का दौर शुरू हो गया है। शेखावाटी के चूरू, सीकर, झुंझुनूं जिलों में तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया है। पिलानी, बाड़मेर, बीकानेर में तो सीजन का सबसे कम पारा रिकॉर्ड किया गया।

मौसम एक्सपट्‌र्स का मानना है कि प्रदेश में अब शीतलहर और कोहरा का असर दिखेगा। इधर, हिल स्टेशन माउंट आबू में आज लगातार तीसरे दिन पारा जमाव बिंदु पर रहा। उत्तरी राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में घना कोहरा छाया रहा। इससे कई जगहों पर दोपहर तक सूरज देखने को नहीं मिला।

उत्तर भारत में इस सर्दी के सीजन में कोई बड़ा वेस्टर्न डिस्टर्बेंस नहीं आया, लेकिन इस बीच नॉर्दन विंड के चलने सर्दी तेज हो गई। सर्द हवाओं से गलन-ठिठुरन बढ़ी है। इससे प्रदेश के अधिकांश शहरों में दिन का अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है।

सर्द हवाओं का असर सरहदी जिलों में सबसे ज्यादा देखने को मिल रहा है। बीकानेर में आज न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। बीकानेर में इस सीजन का यह सबसे कम तापमान है। 22 दिसंबर को यहां का तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे आया था।

बाड़मेर में पहली बार पारा 10 डिग्री से नीचे आया
बाड़मेर में आज रात में पारा 9.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, यहां सीजन में पहली बार तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे आया है। ये सरहदी इलाका आज जयपुर, कोटा, अजमेर, बूंदी से भी ज्यादा ठंडा रहा। यहां पिछले दो दिन से ठंडी हवाएं चलने से लगातार तापमान गिर रहा है।

पिछले पांच दिन में यहां तापमान 5 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आया है। वहीं, दिन का अधिकतम तापमान भी पिछले चार दिनों में ये 30 डिग्री सेल्सियस से गिरकर 25 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है। बाड़मेर के अलावा जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर में दिन का अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है।