Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

राजस्थान में वैक्सीन की 1.60 लाख डोज एक्सपायर:कोविड का डर खत्म होने से लोग नहीं लगवाने आए दूसरी और बूस्टर डोज

जयपुर. राजस्थान समेत पूरे देशभर में कोविड का डर खत्म और केस कम हो गए है। इस कारण अब लोग बिना किसी बंदिशों के कहीं भी आजा रहे है। इस कारण लोग अब कोविड से बचाव के लिए बनी वैक्सीन भी लगवाने नहीं आ रहे। राजस्थान में हेल्थ डिपार्टमेंट ने इसको देखते हुए अपनी 90 फीसदी वैक्सीनेशन साइट्स बंद भी कर दी है। लेकिन सरकार के पास वैक्सीन को जो स्टॉक बचा है वह अब खराब होने के कगार पर है। इस महीने राजस्थान के अलग-अलग सेंटर्स पर रखी 1.60 लाख से ज्यादा डोज खराब हो गई।

मेडिकल हैल्थ डिपार्टमेंट से मिली रिपोर्ट के मुताबिक पूरे प्रदेश में 12 साल या उससे ज्यादा के एजग्रुप के अब तक 5 करोड़ 70 लाख से ज्यादा लोगों ने वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है। इसमें से अब तक 5 करोड़ 8 लाख 65,601 लोगों का वैक्सीनेशन (दोनों डोज) लग चुकी है। विभाग के मुताबिक अब तक करीब 73 लाख लोगों ने बूस्टर डोज लगा रखी है।

कोवैक्सीन की डोज जाएगी वापस
हैल्थ डिपार्टमेंट राजस्थान में वैक्सीनेशन प्रोग्राम के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डॉ. रघुराज सिंह ने बताया कि लोगों में कोविड का डर अब लगभग खत्म हो गया है। इस कारण वैक्सीन सेंटर्स पर लोग कम आ रहे है। हमारे पास कोवैक्सीन की 1.60 लाख डोज बची है, जो लगी नहीं और इस महीने एक्सपायर हो रही है। इन डोज को हम केन्द्र सरकार को वापस भिजवा रहे है, ताकि केन्द्र से हमे नई वैक्सीन मिल सके।

80 फीसदी वैक्सीन साइट्स बंद
हैल्थ डिपार्टमेंट से मिली रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 6 महीने के दौरान 80 फीसदी वैक्सीन साइट्स बंद हो गई। इस साल जनवरी तक जहां पूरे प्रदेश में 5 हजार से ज्यादा साइट्स पर वैक्सीनेशन होता था, वह अब 1 हजार साइट्स तक सीमित हो गया है। हालांकि जरूरत के अनुसार अगर कही डिमांड होती है तो विभाग की ओर से वहां साइट वापस शुरू कर दी जाती है।