Thursday, February 2निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

राजस्थान में पहली बार पारा जीरो

  • बर्फ जमी:माउंट आबू सबसे ठंडा, 8 शहरों में 2 डिग्री सेल्सियस तक गिरा तापमान
    जयपुर।
    राजस्थान में इस सीजन पहली बार तापमान जीरो डिग्री सेल्सियस तक नीचे गिर गया। प्रदेश में सर्दी के तेवर फिर से तेज होने लगे हैं। हिल स्टेशन माउंट आबू में कारों पर और मैदानों में बर्फ जम गई। यहां न्यूनतम तापमान 2 डिग्री के आसपास बना हुआ था, जो बुधवार को जीरो पर पहुंच गया है।
    पिछले साल माउंट में 14 दिसंबर के करीब बर्फ जमना शुरू हुई थी, लेकिन इस बार 14 दिन पहले ही सर्दी ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। राजस्थान के 32 शहरों में माउंट आबू सबसे ठंडा रहा है। करीब 8 शहरों में रात के तापमान में 2 डिग्री सेल्सियस तक गिरावट रिकॉर्ड की गई है।
    आबू के अलावा बाड़मेर, भीलवाड़ा, अजमेर सहित 9 शहरों में पारा 2 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आया है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक राज्य में 5 दिसंबर से सर्दी के तेवर थोड़े और तेज हो सकते हैं। हालांकि इस दौरान मौसम शुष्क बना रहेगा। दिन में धूप निकलती रहेगी। इस बीच कड़ाके की सर्दी का दौर शुरू हो सकता है।
    आबू में पिछले 5 दिन से तापमान 2 डिग्री सेल्सियस या उससे नीचे ही रहा, लेकिन आज ये 1.8 डिग्री सेल्सियस गिरकर 0 पर पहुंच गया। तापमान के जमाव बिंदु तक लुढ़क जाने के साथ यहां ओस की बूंदें जम गईं। यही नहीं, पेड़ की पत्तियों, घास के मैदान और गाड़ियों के शीशे व छत पर बर्फ की परतें जम गईं। लोगों घास के मैदानों पर जमी बर्फ के बीच मॉर्निंग वॉक करते नजर आए।
    राजस्थान के कई शहरों में पिछले कई दिनों से तापमान लगभग स्थित बना हुआ था। अब उत्तर भारत से सर्द हवाएं आने लगी हैं। इस कारण शेखावाटी के सीकर, चूरू के अलावा भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, नागौर में सुबह शाम गलन भरी सर्दी पड़ने लगी है। यहां दिन-रात के तापमान में 20 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा का अंतर रहने लगा है।
    माउंट आबू में इस बार 14 दिन पहले ही जमने लगी बर्फ
    32 शहरों में सबसे ठंडा माउंट रहा। दूसरे नंबर पर फतेहपुर और चूरू रहे। अजमेर, भीलवाड़ा, अलवर, जयपुर, सीकर, कोटा, बूंदी, जैसलमेर, जोधपुर, चूरू, श्रीगंगानगर, डूंगरपुर फतेहपुर, सीकर सहित राजस्थान में माउंट आबू सबसे ठंडा रहा।
    माउंट आबू में नवंबर के अंतिम सप्ताह 25 नवंबर को पारा 2 डिग्री हुआ था और सीजन की पहली बर्फ जमी थी। इससे पहले वर्ष 2021 में 9 दिसंबर को पारा 2 डिग्री पर था। लेकिन, इस बार पिछले साल से इस बार 14 दिन पहले ही यहां बर्फ जम गई है।
    कई शहरों में 2 डिग्री तक गिरा तापमान
    माउंट आबू के अलावा आज राज्य के 8 अन्य शहरों में भी तापमान में 1-2 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हुई। अजमेर, भीलवाड़ा, बाड़मेर, जालोर, डूंगरपुर, चित्तौड़गढ़, बारां, बूंदी में बुधवार रात का तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक नीचे चला गया। सीकर, चित्तौड़गढ़ और चूरू में रात में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस के नजदीक रहा। सीकर के फतेहपुर में भी तापमान 3.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ।
    अब बढ़ेगा सर्दी का असर
    मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक एक हल्के प्रभाव का वेस्टर्न डिस्टरबेंस कल शाम से उत्तर भारत के एरिया में एक्टिव होगा। इस सिस्टम के असर से 3 व 4 नवंबर को गिलगित, बाल्टिस्तान के अलावा कश्मीर की ऊंची चोटियों पर हल्की बर्फबारी होगी। इस सिस्टम पास आउट होने के बाद उत्तर भारत से वापस सर्द हवाएं मैदानी इलाकों की तरफ आने लगेगी, जिससे दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में न्यूनतम तापमान में थोड़ी गिरावट होगी।