Saturday, December 10निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

राजस्थान में दो दिन तेज बारिश की चेतावनी

  • कोटा में 6 इंच बरसात; दौसा में दुकानों-घरों में भरा पानी, अंडरपास में फंसी गाड़ियां
    जयपुर.
    राजस्थान में पिछले 24घंटे में 8 जिलों में 70 से 160 एमएम तक बारिश हुई। बरसात से नदी-नालों में पानी बहने लगा। जयपुर के मालवीय नगर नंदपुरी अंडरपास में पानी भरने से चार गाड़ियां फंस गई। स्थानीय लोगों की मदद से गाड़ियों में फंसे लोगों को बाहर निकाला। झुंझुनूं में तेज बरसात के बाद एक मकान और स्कूल की दीवार गिर गई।
    मौसम केन्द्र जयपुर के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान सबसे ज्यादा बरसात कोटा के दीगोद में 160 एमएम दर्ज हुई। सवाई माधोपुर, झुंझुनूं, धौलपुर, चूरू, बारां, अलवर और दौसा में 70 एमएम से ज्यादा बरसात हुई। अलवर में तेज बारिश के बाद पहाड़ियों से पानी बहता हुआ सिलिसेढ, किशनकुंड में आया।
    दौसा शहर में हुई 142 एमएम बारिश के बाद सड़कें लबालब हो गई। लालसोट रोड, आगरा रोड, रेलवे स्टेशन के पास आरओबी के नीचे, जयपुर रोड बाइपास तिराहे के समीप सड़क पर करीब एक फीट तक पानी जमा होने से निचले इलाकों में दुकानों और घरों में पानी भर गया।
    झुंझुनूं शहर में बुधवार को तेज बरसात के बाद सुलताना कस्बे में वार्ड 8 में एक मकान की दीवार गिर गई। सुलताना के ही सरकारी स्कूल की दीवार गिर गई। झुंझुनूं शहर के अलावा यहां मलसीसर, मंडावा, गुढागौड़जी समेत कई जगह तेज बरसात हुई।
    52 फीसदी से ज्यादा बरसात
    राजस्थान में इस साल मानसून खूब मेहरबान रहा। यही कारण रहा कि 20 जुलाई तक राजस्थान में सामान्य से 52 फीसदी से ज्यादा बरसात हो चुकी है। पूरे राज्य में 20 जुलाई तक 149 एमएम औसतन बरसात होती है, लेकिन इस बार 226 एमएम बरसात अब तक हो चुकी है। राजस्थान में मानसून के 4 महीने के सीजन में औसतन 414.5 एमएम बारिश होती है।
    अब आगे क्या?
    मौसम केन्द्र जयपुर के मुताबिक राजस्थान में 22 और 23 जुलाई को भी कई हिस्सों में बारिश होने की संभावना है। 22 जुलाई को अजमेर, बारां, भीलवाड़ा, बूंदी, धौलपुर, जयपुर, झालावाड़, कोटा, बीकानेर और चूरू जिले में मध्यम से तेज बारिश हो सकती है। वहीं 23 जुलाई को जैसलमेर, उदयपुर, सिरोही, राजसमंद, प्रतापगढ़, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, भीलवाड़ा और अजमेर एरिया में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है।