Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

राजस्थान के 12 जिलों में जमकर हुई बारिश

  • उदयपुर, राजसमंद, बांसवाड़ा और डूंगरपुर में 4 इंच तक बरसात; भरतपुर में एक की मौत
    जयपुर।
    मानसून के बादल दक्षिण राजस्थान पर खूब मेहरबान हुए हैं। 12 से ज्यादा जिलों में कल शाम से देर रात तक जमकर बारिश हुई। इनमें बांसवाड़ा, राजसमंद, उदयपुर, डूंगरपुर में पिछले 24 घंटे के दौरान 4 इंच तक बरसात हुई। आज दोपहर में भरतपुर के रुदावल में आकाशीय बिजली गिरने से एक युवक मर गया। इधर मध्य प्रदेश बॉर्डर पर हो रही तेज बारिश के कारण झालावाड़ की कालीसिंध नदी का जलस्तर तेजी से बढ़ने लग गया। इसके बाद प्रशासन ने वहां बने बांध का एक गेट खोलकर पानी की निकासी शुरू कर दी। डूंगरपुर, बांसवाड़ा, उदयपुर, जालोर, सिरोही, पाली, राजसमंद, झालावाड़, प्रतापगढ़, कोटा, बाड़मेर और भीलवाड़ा में जमकर बारिश हुई।
    मौसम केन्द्र जयपुर से मिली रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा 109टट (4 इंच) बरसात बांसवाड़ा के सज्जनगढ़ में हुई। इसके अलावा बागीडोरा, कुशलगढ़, सलोपत, दानपुर, डूंगरपुर के चिखाली, धम्भोला, झालावाड़ सुनेल, पंचपहाड़, पाली के रानी, सुमेरपुर, राजसमंद, नाथद्वारा, सिरोही के शिवगंज, उदयपुर के सलूंबर, भींडर में 50 से लेकर 90टट तक बरसात हुई।
    तेज बारिश के बाद बांसवाड़ा, डूंगरपुर, झालावाड़, उदयपुर में कई जगह बरसाती नदी-नालों में पानी की आवक शुरू हो गई। झालावाड़ में कालीसिंध नदी बने बांध का जलस्तर बढ़ने के बाद बांध का एक गेट 0.10 मीटर खोलकर वहां से 12.26 क्यूमैक पानी छोड़ा गया। इसी तरह बारिश के बाद बांसवाड़ा के माही बजाज सागर और चित्तौड़गढ़ के राणाप्रताप सागर बांध में भी जलस्तर बढ़ना शुरू हो गया। पाली के जवाई बांध पर कल हुई 40टट बारिश के बाद बांध का जलस्तर में मामूली इजाफा हुआ।
    कालीसिंध बांध और माही बजाज में आया पानी
    कालीसिंध बांध के एईएन सत्यवीर नागर की माने तो कालीसिंध नदी में पानी मध्य प्रदेश में हो रही बारिश से आ रहा है। यहां कल देर शाम बांध का गेट खोला गया। इसमें से 12.26 क्यूमैक पानी की आवक हो रही है। इतना ही पानी बांध से छोड़ा जा रहा है। ताकि का जलस्तर 9.04 आरएल मीटर पर बना रहे। बांध का फुल गेज 10 आरएल मीटर का है।
    वहीं, बांसवाड़ा के माही बजाज में बारिश से 2361.14 क्यूसेक पानी की आवक होने से 269.05 आरएल मीटर से बढ़कर 269.15 आरएल मीटर तक पहुंच गया है। जबकि मध्य प्रदेश में हो रही भारी बारिश के कारण पानी आने से राणा प्रता सागर बांध (चित्तौड़गढ़) में 10205.136 क्यूसेक पानी पिछले 24 घंटे के दौरान आया है, जिससे बांध का गेज 349.97 आरएल मीटर से बढ़कर 350.11 आरएल मीटर पर पहुंच गया है।
    बिजली गिरने से दो दिन में 9 की मौत
    आज आकाशीय बिजली गिरने से भरतपुर के रूदावल में एक युवक की मौत हो गई। विष्णु (18) पुत्र प्रहलाद गुर्जर खेतों में बुवाई का काम कर रहा था, तभी बिजली गिरने से वह गंभीर घायल हो गया। सूचना पर स्थानीय लोग जब उसे भरतपुर जिला हॉस्पिटल ले जाने लगे तो उसने रास्ते में दम तोड़ दिया। बिजली गिरने से राजस्थान में बीते दो दिन में ये 9वीं मौत है। मंगलवार को बांसवाड़ा, प्रतापगढ़ में 3-3 और चित्तौड़गढ़ में 2 जनों की मौत हो गई।
    बीकानेर में कल से शुरू हो सकती है बारिश
    मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि आज भी दक्षिणी राजस्थान के कोटा, उदयपुर व जोधपुर संभाग के जिलों में कुछ स्थानों पर मध्यम से तेज दर्जे की बारिश हो सकती है। जबकि 7 से 10 जुलाई के दौरान भरतपुर, बीकानेर, अजमेर संभाग सहित अधिकतर स्थानों पर बारिश होने की संभावना है। इस दौरान राज्य में कहीं-कहीं भारी बारिश और एक-दो स्थानों पर अति भारी बारिश भी हो सकती है।
    अगले सप्ताह भी जारी रहेगा बारिश का दौर
    मौसम केन्द्र जयपुर के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में एक और नया कम दबाव का क्षेत्र बन गया है, जिसके प्रभाव के कारण राजस्थान में 12-13 जुलाई से फिर बारिश का दौर शुरू होगा, जो अगले सप्ताह के अंत तक बना रह सकता है।