Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

यमदूत बनकर आई बस ने तीन को रौंदा

  • दर्दनाक हादसे में दो भाई और बहन की मौत
    जयपुर।
    एक बेकाबू निजी बस ने सड़क के किनारे खड़े लोगों को कुचल दिया। हादसे में तीन लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। वहीं मासूम बालक के दूर गिरने से जान बच गई। मृतकों में दो भाई और एक बहन है और वह भेड़ बकरियां चराकर अपने परिवार का गुजारा करते थे। हादसे के बाद घटनास्थल पर लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। घटना गुरुवार दोपहर को जोबनेर थाना इलाके के आसलपुर मोड की है।
    जानकारी के अनुसार आसलपुर मोड़ पर बाइक पर सवार होकर आए तीन लोग बस स्टैंड पर बस का इंतजार कर रहे थे। इस बीच बारात लेकर आ रही बस ने तोनों को टक्कर मार दी। हादसे में आसलपुर निवासी पप्पू लाल गुर्जर (40), बनवारी गुर्जर (25) व बहन बाली देवी (20) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 4 साल का बच्चा महिला के गोद से छिटक कर दूर जा गिरा, जिससे उसकी जान बच गई। हादसे के बाद बस चालक मौके से भाग गया। पुलिस ने बस को जब्त कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी। साथ ही घटना को लेकर स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश है
    हादसे के बाद स्थानीय लोगों ने रास्ता जाम कर दिया। पुलिस ने लोगों के समझाने का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण नहीं माने। लोगों का कहना था कि जब तक मृतक परिवार को मुआवजा नहीं मिलेगा शव नहीं उठाने देंगे। इस दौरान जोबनेर महला हाईवे पर वाहनों की लंबी कतार लग गई। सूचना मिलने पर जोबनेर उपखंड अधिकारी अरुण जैन तहसीलदार पवन कुमार सांभर सीओ समेत रेनवाल फुलेरा जोबनेर का पुलिस जाब्ता भी मौके पर पहुंचा और रास्ता खुलवाने का प्रयास किया लेकिन लोगों ने रास्ता खोलने से मना कर दिया।