Wednesday, February 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

मैसूरू के बस स्टॉप का रूप-रंग बदला:कर्नाटक के BJP सांसद ने दी थी गिराने की धमकी, दो गुंबद हटाए, रंग भी बदला

बेंगलुरु. कर्नाटक में मैसूरु ऊटी रोड पर बने बस स्टॉप का रंग रूप बदल दिया गया है। दरअसल पहले इस पर तीन गुंबद थे। एक भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि ये मस्जिद जैसा दिख रहा था। उन्होंने कहा था कि इसे ठीक नहीं किया तो वे इसे बुलडोजर से गिरा देंगे। इस पर बस स्टॉप का रूप रंग बदल दिया गया। अब इस पर केवल एक ही गुंबद दिख रहा है, जिसे लाल रंग से रंगा गया है।

पहले समझें क्यों विवादों में था ये बस स्टॉप
पिछले रविवार (13 नवंबर) को कर्नाटक भाजपा सांसद प्रताप सिम्हा मैसूरु में ‘टीपू निजाकंसुगलु’ (टीपू के सच्चे सपने) नाम के इवेंट को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उनके एक बयान ने विवाद खड़ा कर दिया था। उनका मानना था कि यहां का यह बस स्टॉप दूर से किसी मस्जिद की तरह नजर आता है। इसके बाद उन्होंने इसे बुलडोजर से गिराने की चेतावनी दी थी।

उन्होंने कहा था- सोशल मीडिया पर इस बस स्टॉप को देखा था। इसमें 3 गुंबद हैं, बीच में बड़ा और अगल-बगल छोटे गुंबद। वह केवल एक मस्जिद है। मैंने इंजीनियरों से तीन-चार दिनों में इस ढांचे को गिराने के लिए कहा है। अगर वे ऐसा नहीं करते हैं, तो मैं खुद एक JCB लाकर उसे तोड़ दूंगा।

कांग्रेस का सवाल- गुंबद वाले सरकारी दफ्तर भी गिरा दोगे?
भाजपा सांसद के बयान के बाद उठे विवाद पर कांग्रेस भी कूद गई थी। कर्नाटक कांग्रेस प्रमुख सलीम अहमद ने सांसद के बयान पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा था- मैसूर सांसद का यह बयान मूर्खतापूर्ण है। प्रताप सिम्हा एक सांसद हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि वे क्या बोल रहे हैं। क्या वह उन सरकारी दफ्तरों को भी गिरा देंगे, जिनमें गुंबद बने हैं? पहले उन्हें इसका जवाब देने दें। लोग इस सरकार से तंग आ चुके हैं क्योंकि कोई विकास नहीं हुआ है।