Tuesday, December 6निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

मूंग-धान की खरीद सुचारू रूप से शुरू करवाने की मांग

  • ग्रामीण किसान-मजदूर समिति ने सौंपा ज्ञापन
    हनुमानगढ़ (सीमा सन्देश न्यूज)।
    सहकारी समिति का प्रीमियम कम करवाने सहित किसानों से जुड़ी विभिन्न समस्याओं को पूरा करने की मांग को लेकर ग्रामीण किसान-मजदूर समिति ने गुरुवार को मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। समिति संयोजक रणजीत सिंह के नेतृत्व में सौंपे गए ज्ञापन में बताया गया कि सहकारी समितियों में ब्याज मुक्त ऋण दिया जाता है लेकिन बीमा राशि ब्याज से भी अधिक है। सीनियर सिटीजन को बीमा राशि लगभग 40 रुपए प्रति हजार समिति काट रही है, इसको कम करवाया जाए। कृषि कार्य के लिए बनाई गई डिग्गियां जो कि किसान ने फाइल लगाने के बाद स्वयं अपने खर्चे पर तैयार कर ली लेकिन सरकार ने उनका अनुदान रोक लिया, उन किसानों को भी थोड़ा-थोड़ा कर अनुदान दिया जाए। नरमा के बीज में नॉन बीटी बीज बहुत अधिक होने के कारण नरमा की फसल खराब हो गई। नॉन बीटी के अलग से पैकेट दिए जाएं। बीज में मिक्स ना किया जाए। अतिवृष्टि के कारण मूंग-ग्वार की फसल खराब हो गई है। नरमा की फसल मौसमी बीमारी के कारण खराब हो गई है। इन सभी की अति शीघ्र गिरदावरी करवाकर मुआवजा दिया जाए। इसके अलावा समिति सदस्यों ने एक अन्य ज्ञापन जिला कलक्टर को किसानों से जुड़ी स्थानीय समस्याओं को लेकर सौंपा। ज्ञापन में मूंग की खरीद सुचारू रूप से चालू करवाने, 25 सितम्बर से परमल धान की सुचारू ढंग से खरीद शुरू करवाने, किसानों को बीमा का लाभ मिल सके, इसके लिए क्रॉप कटिंग में पारदर्शिता लाने व जल्द से जल्द क्रॉप कटिंग करवाने, सरकारी खरीद सही समय पर चालू हो सके इसके लिए गिरदावरी 15 अक्टूबर के बजाय 1 सितम्बर तक करने, जमीन के सांझे खाते विवादित मद में डाले जाने के कारण रजिस्ट्री नहीं हो रही। सांझे खाते में से विवादित खाता शब्द हटाने, एसटीजी नहर के 21 एसटीजी से लेकर टेल तक के मोघों का एफएसएल पूरा करने के लिए सिंचाई विभाग में लगी हुई प्रार्थना पत्र को संज्ञान में लेकर कार्यवाही करने की मांग की गई। ज्ञापन में चेतावनी दी गई कि इन समस्याओं का तुरंत प्रभाव से हल न होने पर आंदोलन किया जाएगा। उधर, ज्ञापन सौंपने से पहले समिति सदस्यों की बैठक जंक्शन स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा में हुई। इसमें किसानों के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई। इस मौके पर जसपाल सरां, गगनदीप सिंह, जिला परिषद सदस्य मनीष गोदारा, जगतार सिंह, कुलदीप चहल, दर्शन सिंह, रोशन सिंह, अमरजीत सिंह, ओंकार सिंह, गुरसेवक सिंह, संदेश चौधरी, सरबन सिंह, जगवीर सिंह, सिकंदर गिल, हनुमान चौहान, गुरुराज सिंह, बलदेव सिंह आदि मौजूद रहे।