Tuesday, December 6निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

मासूम रेहान का सहारा बनी चिरंजीवी योजना

  • पैरों में जन्मजात विकृति का हुआ निशुल्क आॅपरेशन
    श्रीगंगानगर।
    जन्मजात विकृति का शिकार बच्चे रेहान के लिए मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना नई जिन्दगी देने वाली साबित हुई है। इस योजना के तहत ना केवल नन्हे रेहान को जन्मजात पैरोें की विकृति से मुक्ति मिली है बल्कि इसके लिए इलाज के लिए खर्च होने के वाली राशि के एवज में परिजनों को एक रुपए भी खर्च नहीं हुआ। सीएमएचओ डॉ. मनमोहन गुप्ता ने बताया कि जिला मुख्यालय पर रहने वाले रेहान के पिात अजय कुमार बेहद रेहड़ी लगाकर अपना जीवन यापन करते हैं। रेहान के जन्मजात विकृति होने के कारण पैर टेढ़ा था और बच्चे को काफी परेशानी होती थी, वहीं इससे परिजन भी चिंतित थे। उन्होंने चिकित्सकों को दिखाया तो जानकारी मिली कि आॅपरेशन होगा और काफी रुपए भी लगेंगे, इसलिए इलाज में देरी होती गई। लेकिन जब उन्हें चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की जानकारी मिली तो उन्होंने स्थानीय एंजल हॉस्पीटल में रेहान को दिखाया। जहां चिकित्सकों ने जांच कर निशुल्क व सफल आॅपरेशन किया। अब रेहान स्वस्थ है। पिता अजय कुमार ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार जताते हुए आमजन से अपील की, कि चिरंजीवी योजना में अपना पंजीकरण अवश्य करवाएं ताकि किसी भी आपात स्थिति में योजना का लाभ मिल सके। सीओआईईसी विनोद बिश्नोई ने बताया कि जिला मुख्यालय पर आस्था हॉस्पीटल, आदर्श नर्सिंग होम, आंचल हॉस्पीटल, एंजल हॉस्पीटल, शिव चौक स्थित बंसल हॉस्पीटल, सेतिया हॉस्पीटल, जनसेवा, जयपुर हॉस्पीटल, जिंदल हॉस्पीटल, जुुबिन हॉस्पीटल, मेक्स केयर, नागपाल हॉस्पीटल, पेड़ीवाल हॉस्पीटल, पीएमजी हॉस्पीटल, रेनबो हॉस्पीटल, राजोतिया हॉस्पीटल के अलावा जिले के कई और अस्पताल योजना में शामिल है।