Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

महबूबा मुफ्ती का केंद्र को संदेश:कश्मीर का मसला हल नहीं किया, तो कितनी भी फौज तैनात कर लीजिए कोई नतीजा नहीं निकलेगा

श्रीनगर. कश्मीर में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (PDP) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने केंद्र की भाजपा सरकार के नाम कड़ा संदेश दिया है। उन्होंने कहा है कि जब तक कश्मीर के मसले का हल नहीं हो जाता है, तब तक केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर में कितनी भी सेना तैनात कर ले, यहां बदलाव नहीं दिखेगा।

रविवार को पार्टी के यूथ कन्वेंशन में भाषण देते हुए महबूबा ने यह भी कहा कि कश्मीर भारत से संविधान के जरिए जुड़ा है। लेकिन, BJP ने संविधान को ही खत्म कर दिया है। भारत BJP का नहीं है। हम कश्मीर को BJP का भारत नहीं बनने देंगे।

महबूबा बोलीं- हमें हमलावरों को खदेड़ना आता है
महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार को चेतावनी देते हुए यह भी कहा कि सरकार को हमलावरों की तरह बर्ताव नहीं करना चाहिए, क्योंकि कश्मीर के लोगों को उन्हें खदेड़ना आता है। उन्होंने कहा, ‘मैं भाजपा को यह बताना चाहती हूं कि जब पाकिस्तान से हमलावर आए थे, तब यहां भारतीय सेना नहीं पहुंच पाई थी। तब यहां के लोगों के पास बंदूकें भी नहीं थीं, इसके बावजूद लोगों ने हमलावरों काे खदेड़ दिया था। इसलिए हमलावर मत बनिए, कश्मीरी लोग जानते हैं कि उन्हें कैसे भगाना है।’

पंचायत चुनाव करवाने पर सरकार को खरी-खोटी सुनाई
महबूबा मुफ्ती ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद यहां पंचायत चुनाव कराने पर भी केंद्र सरकार को खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने कहा कि अगर ये चुनाव इतने ही अच्छे हैं, तो केंद्र की टॉप लीडरशिप इन चुनावों में क्यों नहीं खड़ी होती?

महबूबा ने कहा, ‘हमने आपके साथ संविधान का नाता जोड़ा था, जिसे आपने खत्म कर दिया है। आपने हमारी इज्जत के साथ खिलवाड़ किया। ये काम नहीं करेगा। अगर आप सारी दुनिया से ये कह सकते हैं कि आपने जम्मू-कश्मीर की विधानसभा और संविधान को हटा दिया, लेकिन पंचायत चुनाव कराए हैं, तो आपको केंद्र सरकार के अपने शीर्ष पदों से इस्तीफा देकर पंचायत चुनाव ही लड़ने चाहिए।’