Friday, December 9निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

बिजली आंदोलन पर पुलिस कार्यवाही के आदेश का चौतरफा विरोध

  • नेठराना में 19 को होगा विरोध प्रदर्शन
    भादरा (सीमा सन्देश न्यूज)।
    नेठराना से आरंभ हो कर नोहर-भादरा तहसील में पिछले तीन साल से बिजली बिलों में लगने वाले तरह तरह के शुल्क के विरोध में चल रहे आंदोलन पर एक बार फिर से पुलिस दमन व ग्रामीणों के कनेक्शन काटे जाने के विरोध में आज कई गांवों ने एकजुटता दिखाई व इस पुलिस कार्यवाही के आदेश खारिज किए जाने बाबत मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम छानी बड़ी, रामगढ़ तथा नोहर तहसील में ज्ञापन सौंपे गए। पिछली 28 मई 2022 को नेठराना में बिजली विभाग ने पुलिस के बल पर 700 से ज्यादा ग्रामीणों के कनेक्शन काटे थे और अब एक बार पुनº जिला प्रशासन ने पुलिस बल प्रयोग कर 19 अक्टूबर 2022 को गरीब जनता को दिवाली के मौके पर अंधेरे में डालने का फरमान जारी कर दिया है जिसका इलाके की जनता ने कड़ा विरोध जताया है जो कि पूरी तरह से अन्याय पूर्ण है। बिजली उपभोक्ता संघर्ष समिति की ओर से कहा गया है कि उपखंड अधिकारी की मध्यस्थता में हुई अंतिम वार्ता में यह तय हुआ था कि बिजली उपभोक्ताओ को बिलों में रियायत देकर बकाया राशि की किश्तें बनाकर देने के लिए बिजली विभाग काम करेगा। परंतु अभी तक विभाग ने कोई सुनवाई नहीं की है।आंदोलन पर पुलिस दमन के आदेश के खिलाफ एक बार पुन: नेठराना और आसपास के कई गांवों ने मिलकर इस अन्याय और अत्याचार के विरुद्ध एकजुटता दिखाई है। ज्ञापन में मुख्यमंत्री से मांग की गई है कि जिले में ग्रामीणों के कनेक्शन काटे जाने की कार्यवाही पर तुरंत रोक लगाई जाए व बिजली उपभोक्ता संघर्ष समिति हनुमानगढ़ की निम्न मांगों को पूरा किया जाए।