Wednesday, February 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

बर्फीली हवाओं ने झकझोरा, हाथ-पैर पड़े सुन्न

  • पूरा दिन रहा कोहरे का असर, गलन भरी सर्दी तोड़ रही रिकॉर्ड
    हनुमानगढ़ (सीमा सन्देश न्यूज)।
    पहाड़ी इलाकों में हो रही बर्फबारी का असर गुरुवार को भी हनुमानगढ़ जिले में देखने को मिला। गुरुवार को घना कोहरा छाया रहा। पूरा दिन कोहरे का असर रहा और धूप नहीं निकली। ऊपर से दिनभर शीतलहर चलने से लोगों की कंपकंपी छूटती रही। हाथ-पांव सुन्न पड़ गए। इससे तापमान में बुधवार की अपेक्षा और गिरावट दर्ज की गई। हालांकि तीन-चार दिन बाद पश्चिमी विक्षोभ के कारण तापमान बढ़ने की संभावना है। गुरुवार सुबह से हनुमानगढ़ घने कोहरे की चपेट में रहा। ग्रामीण व खुले क्षेत्रों में बर्फ जम गई। तेज हवाओं ने सर्दी का अहसास और बढ़ा दिया। पिछले दो-तीन दिन से दिन व रात में हवाएं भी तेज हैं, जिससे सर्दी बढ़ी है। हाथ-पैर ठिठुर रहे हैं। सड़कों पर बिना टोपी के राहगीर अब नहीं दिख रहे। सर्दी के चलते आठ-नौ बजे बाद कॉलोनियों में लोगों की आवाजाही भी कम हो गई है। वहीं कोहरे के कारण नेशनल हाइवे सहित अनेक मार्गों पर लंबी दूरी के वाहन भी नहीं दिख रहे हैं। सुबह इतना घना कोहरा था कि 100 मीटर की दूरी पर भी कुछ देख पाना मुश्किल था। सुबह 11 बजे तक आबादी क्षेत्र में घने कोहरे का असर रहा। कोहरे के कारण सुबह के समय वाहन ड्राइवरों को हेडलाइट जलाकर चलना पड़ा। सुबह हवाओं से राहत पाने के लिए शहर में जगह-जगह लोग अलाव का सहारा लेते नजर आए। सुबह कोहरे के कारण चालकों को गाड़ियों की लाइट जलाकर चलना पड़ा। पूरा दिन कोहरे का असर नजर आया। बच्चे-बुजुर्ग घरों में दुबके रहे। जरूरी काम से ही लोग घरों से बाहर निकले। बाजार भी सुनसान नजर आए। खेतों में गेहूं की फसल के पतों पर ओस बर्फ की तरह जम गई। खुले आसमान के नीचे खड़ी कार की छत और शीशों पर बर्फ की परत जम गई। कोहरे और सर्द हवाओं के कारण दिन में भी गलन भरी सर्दी से लोग ठिठुरने को मजबूर रहे। दिन भर कोल्ड-वेव की स्थिति बनी रही। जयपुर मौसम केन्द्र के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि अभी तापमान में और भी गिरावट आ सकती है। जिले में शीतलहर चल रही है। लोगों को सर्दी से बचाव की जरूरत है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक सर्दी का ये सितम शुक्रवार तक और बना रहेगा और शनिवार से लोगों को इससे थोड़ी राहत मिलेगी।