Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

फ्री यूनिफॉर्म पर गहलोत बोले- 200 में सिलाई संभव नहीं:पेरेंट्स कुछ खर्चा खुद करें, अगले साल से रेडिमेड ड्रेस मिलेगी

जयपुर. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा- 200 रुपए में स्कूल ड्रेस की सिलाई संभव नहीं है। पेरेंट्स कुछ खर्चा खुद करें। ताकि स्टूडेंट्स की यूनिफॉर्म सिल जाए। कुछ लोग घर में भी ड्रेस सिल सकते हैं। टीचर से भी कहूंगा कि वो इसमें मदद करें। अपने जिलों के टेलर्स को इसके लिए तैयार करें, ताकि कम से कम पैसे में बच्चों की ड्रेस सिल सके।

गहलोत ने मंगलवार को सरकारी स्कूल के बच्चों को फ्री यूनिफॉर्म और बाल गोपाल योजना का वर्चुअल उद्घाटन हुआ। अपने आवास पर आयोजित कार्यक्रम में सीएम ने 6 स्टूडेंट्स को स्कूल ड्रेस भेंट किया। इस योजना के तहत राजस्थान के 68 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स को फ्री स्कूल ड्रेस और दूध दिया जाएगा।

अगली बार सिली सिलाई यूनिफॉर्म देंगे
गहलोत ने कहा- हम 2 जोड़ी यूनिफॉर्म की सिलाई के लिए 200 रुपए दे रहे हैं। 200 रुपए में स्कूल ड्रेस की सिलाई संभव नहीं है। अगले शैक्षणिक सत्र तक हम कोशिश करेंगे कि स्टूडेंट्स को सप्ताह में 3 से 6 दिन तक दूध दिया जाए। दूध पूर्ण आहार की श्रेणी में आता है। इसलिए हम फाइनेंशियल मैनेजमेंट कर बच्चों को हर दिन दूध देने की कोशिश करेंगे। हमने इस बार भी स्टूडेंट्स को रेडिमेड यूनिफॉर्म देने की सोची थी। स्टूडेंट्स के साइज को लेकर हमारे पास कोई डेटा नहीं था। इसलिए इस बार यूनिफॉर्म का कपड़ा दिया गया। अगली बार हम कोशिश करेंगे कि बच्चों को सिली हुई यूनिफॉर्म दी जाए। इसके लिए हर साइज में यूनिफॉर्म सिलवाई जाएगी।