Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

प्रेम में पागल बहन ने सगे भाई की करवाई हत्या, प्रेमी संग गिरफ्तार

चित्तौड़गढ़ (वार्ता). राजस्थान में चित्तौडगढ़ जिले के गंगरार में एक युवक का सर कटा शव मिलने के मामले का पुलिस ने खुलासा करते हुए हत्या के आरोप में मृतक की सगी बहन उसके प्रेमी एवं एक बाल अपचारी सहित चार को गिरफ्तार किया है।
थानाधिकारी शिवलाल मीणा ने बताया कि कसबे में किले की पहाड़ी के पीछे स्थित एक कुएं से पुलिस को एक युवक का धड़ मिला था और दूसरे दिन सर भी मिल गया जिसकी शिनाख्त मधयप्रदेश के मन्दसौर जिले के गरोठ निवासी महेंद्र रायका के रूप में हुई। मृतक हाल गंगरार के समीप भटखेड़ा स्थित अपने ननिहाल में माँ तथा दो बहनों के साथ रहकर ट्रक चलने का काम करता था।
पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जाँच की तो पता चला कि मृतक की बहन तनु उर्फ तनिष्का का प्रेम प्रसंग गंगरार निवासी महावीर धोबी के साथ था जिस पर भाई महेंद्र को आपत्ति थी और हांल ही उसकी सगाई उज्जैन में कर दी थी और फरवरी में शादी भी तय कर दी। तनु ने यह बात अपने प्रेमी को बता भाई को रास्ते से हटाने की बात कही।
गत 16 नवम्बर को तनु ने एक रिश्तेदारी में कोटा से चित्तोड़ आकर अपने भाई को फोन पर उसे लेने आने की कहा। ये बात योजना अनुसार उसने अपने प्रेमी महावीर को बता दी जिसने रस्ते में ही अपने एक साथी महेंद्र धोबी एवं बाल अपचारी के साथ मिलकर अगवा कर लिया और बिजली के तार से गला घोंट हत्या करने के बाद शव पर वजनी पत्थर बांध कुए में फेंक दिया। पानी में गलने के कारण सर अलग हो गया था जो दूसरे दिन मिला था वहीँ मृतक ट्रक चलाता था और कई दिनों तक घर नही आता था इसलिए रिपोर्ट भी नही लिखवाई थी।
मुख्य आरोपी तनु एवं महेंद्र ने पुलिस को बताया कि हत्या कर सबूत मिटाने की सारी योजना दृष्यम फिल्म देखकर बनाई जिसके अनुसार प्रेमी महावीर ने घटना के दिन अपना मोबाइल बन्द रखा और शव को ठिकाने लगाकर वह मन्दसौर चला गया और वंहा पर अपना मोबाइल आॅन करने के बाद ट्रेन में बैठकर चित्तौड़गढ़ आ गया।
जब पुलिस ने उससे पूछताछ की तब भी वो खुद को मन्दसौर में होना बताता रहा लेकिन सख्ती के आगे टूट गया। पुलिस ने तीनो को गिरफ्तार कर लिया जबकि बाल अपचारी को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष पेश किया गया।