Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

पार्षद व नागरिक बोले- पीलीबंगा शहर बना अपराधियों का गढ़

  • कहा, ‘अपराधियों में विश्वास व आमजन में भय’ बन चुकी पीलीबंगा पुलिस थाना की कार्यप्रणाली
    हनुमानगढ़ (सीमा सन्देश न्यूज)।
    पीलीबंगा शहर के वार्ड नम्बर चार के पार्षद लक्ष्मण गोयल के नेतृत्व में विभिन्न संगठनों के सदस्य व शहरवासी बुधवार को जिला कलक्ट्रेट पहुंचे और एडीएम को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। पार्षद व शहरवासियों का कहना था कि पीलीबंगा शहर अपराधियों का गढ़ बन गया है। अपराधियों के हौसले बुलन्द हैं। पिस्तोल की नौक पर एस्सार पेट्रोल पम्प पर लूट, कोको पेट्रोल पम्प के सामने राकेश वर्मा की मोटर साइकिल की दुकान में पिस्तौल की नौक पर लूट-पाट, डकैती व जानलेवा हमला, वार्ड 14 में घर के अन्दर घुसकर मारपीट, बिजली विभाग में कम्प्यूटर चोरी, व्यापार मण्डल कार्यालय में चोरी जैसी घटनाएं आम हो गई हैं। अपराधी बेखौफ घूम रहे हैं। अपराधियों में विश्वास व आमजन में भय, यह स्लोगन पीलीबंगा थाना पर सही सिद्ध हो रहा है कि। यह पीलीबंगा पुलिस थाना की कार्यप्रणाली बन चुकी है। पार्षद लक्ष्मण गोयल ने बताया कि वार्ड 14 में हुए घटनाक्रम के नामजद अपराधियों की सूचना पीलीबंगा थाना प्रभारी व रावतसर डीएसपी को उपलब्ध करवाई गई। लेकिन थाना प्रभारी ने अपने पास फाइल न होने और गिरफ्तार करने की पावर नहीं होने की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया और अपराधियों को भागने का मौका दिया। रावतसर डीएसपी की ओर से बाहर होने का कहकर कोई संतुष्टिजनक जवाब नहीं दिया गया। उन्होंने बताया कि वार्ड 14 में हुई घटना के बाद जब आक्रोशित जनता की ओर से पुलिस थाना के समक्ष धरना दिया जा रहा था तो थाना प्रभारी ने 7 दिन का समय मांगा था। 7 दिवस बाद जब वे थाना प्रभारी से मिले तो उन्होंने 4 दिन और फिर 2 दिन का समय मांग लिया। लेकिन आज 22 दिन बीतने के बाद भी आरोपियों की गिरफ्तारी न होना व नामजद अपराधियों के छिपने के ठिकाने की पुख्ता सूचना देने के बाद भी पुलिस का उन तक न पहुंचना यह साबित करता है कि कहीं न कहीं सांठ-गांठ हुई है। ऐसे में अब उन्हें न्याय की उम्मीद नहीं रही है। क्योंकि अपराधियों को भागने का मौका दिया जा रहा है। अब आमजन न्याय के लिए थाना में जाने से कतराने लगा है। क्योंकि जो लोग थाना में न्याय के लिए जाते हैं, उनके गवाहों को अपराधी सरेआम धमकाते हैं। मुख्यमंत्री के नाम सौंपे ज्ञापन में पीलीबंगा पुलिस थाना में दर्ज एफआईआर संख्या 485/22 में नामजद आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की गई। इस मौके पर प्रगतिशील कुम्हार सेवा समिति पीलीबंगा अध्यक्ष गणेशाराम दादरवाल, भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी के जिला सचिव रामकुमार, बेगराम, गोपीराम, रामजीलाल, रामप्रताप, राकेश आदि मौजूद थे।