Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

पाकिस्तान से घुसपैठ की आशंका, बॉर्डर पर BSF का अलर्ट:बॉर्डर क्षेत्र में करवाई नाकाबंदी, वाहनों की भी जांच

बीकानेर. अंधेरी रातों में घुसपैठ और तस्करी की आशंका को देखते हुए बॉर्डर क्षेत्र में पुलिस और बीएसएफ अलर्ट मोड पर है। सीमावर्ती खाजूवाला क्षेत्र में बीएसएफ और पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी है। दरअसल, कोहरा बढ़ने के साथ ही सीमा पर घुसपैठ बढ़ जाती है। मादक पदार्थों की तस्करी भी पाकिस्तान से कोहरे के दौरान ज्यादा होती है।

खाजूवाला में वाहनों के चैक करते पुलिस और बीएसएफ के जवान। इस दौरान महिला बीएसएफ जवान भी साथ रहे।

खाजूवाला में वाहनों के चैक करते पुलिस और बीएसएफ के जवान। इस दौरान महिला बीएसएफ जवान भी साथ रहे।

ऐसे में 114वीं वाहिनी सीमा सुरक्षा बल व खाजूवाला पुलिस ने सरहद के मार्गों पर सीमा प्रहरियों के साथ संयुक्त रूप से नाकाबंदी शुरू कर दी है। यहां से गुजर रहे वाहनों की जांच की जा रही थी। खाजूवाला बॉर्डर क्षेत्र की गांव-ढाणियों में गुजरने वाले प्रत्येक वाहन की बीएसएफ व पुलिस सघनता के साथ चैकिंग की जा रही है। क्योंकि पड़ोसी देश से घुसपैठ और तस्करी की नापाक हरकत करने की आशंका जताई जा रही है।

बीएसएफ़ कमाडेंट महेंद्र सिंह व डिप्टी कमाडेंट अजयवीर सिंह राठौड़ के नेतृत्व में सीमा सुरक्षा बल द्वारा सीमा क्षेत्र में चौकसी बढ़ाते हुए आने जाने वाले वाहनों की जांच की जा रही है, संदिग्ध लोगों से पूछताछ की जा रही हैं। वहीं क्षेत्र में अवांछित गतिविधियों पर सीमा सुरक्षा बल की पैनी नजर है और धुंध को देखते हुए नफरी व गश्त भी बढ़ा दी गई है। सीमा पार से मादक पदार्थों के आने के इनपुट के बाद सुरक्षा एजेंसियां भी अलर्ट हैं। क्योंकि अंधेरी रात का फायदा उठाकर तस्करी होने के इनपुट सुरक्षा एजेंसियों को मिले हैं। ऐसे में बीएसएफ ने सीमा पर चौकसी बढ़ाने के साथ अतिरिक्त जाब्ता भी तैनात किया है।

बीकानेर-श्रीगंगानगर सीमा पर सख्ती
गौरतलब है की बीकानेर व श्रीगंगानगर जिले की सटी 158 किलोमीटर की सीमा क्षेत्र में पहले भी कई बार पाक की नापाक हरकत देखने को मिली है। दूसरी तरफ पाक की ओर से कई बार इस बॉर्डर क्षेत्र में मादक पदार्थों व ड्रोन की मूवमेंट को लेकर बीएसएफ अलर्ट है। बीएसएफ़ व पुलिस ने भी आम लोगो से अपील की है जो भी व्यक्ति या वाहन आपको संदिग्ध लगे उसकी तत्काल पुलिस व बीएसएफ़ को सूचना दे ताकि कार्रवाई की जा सके। इस दौरान 114वीं सीसुब खाजूवाला के डिप्टी कमाडेंट अजयवीर सिंह, पुलिस थाना खाजूवाला के सब इंस्पेक्टर महेंद्र सिंह सहित बीएसएफ़ की महिला जवान भी मौजूद रही।