Friday, December 9निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

पहले ट्रैक्टर व कृषि यंत्र हड़पे, फिर दी जान से मारने की धमकी

  • डेढ़ लाख रुपए की ठगी करने का मामला, खुद को सरपंच बताने वाले सहित चार नामजद
    हनुमानगढ़ (सीमा सन्देश न्यूज)।
    डेढ़ लाख रुपए में सौदा तय कर ट्रैक्टर व कृषि यंत्र ले जाने व रुपए नहीं देकर किसी को कुछ बताने पर जान से मारने व झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी देने का मामला सामने आया है। टिब्बी पुलिस थाना में इस संबंध में खुद को गांव का सरपंच बताने वाले शख्स सहित चार जनों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज हुआ है। जानकारी के अनुसार कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुए मुकदमे में जसवंत पुत्र देवीलाल बिश्नोई निवासी 2 एमकेएसबी ग्राम पंचायत बशीर ने बताया कि उसके पास सोनालिका ट्रैक्टर व कृषि उपयोग के कृषि यंत्र सीलर, कल्टीवेटर, बीटी बिजाई मशीन आदि थे। उसके पास 26 फरवरी 2019 को संगरिया तहसील के गांव इन्द्रपुरा निवासी बूटासिंह पुत्र बाबूसिंह जटसिख, गुरप्यार सिंह पुत्र महेन्द्रसिंह जटसिख, राजेश गोदारा पुत्र रामप्रताप जाट तथा सिरसा के गांव रानिया निवासी जगसीर उर्फ बिट्टू पुत्र छिन्द्रसिंह कम्बोज व दो अन्य जने आए। राजेश गोदारा ने खुद को इन्द्रपुरा गांव का सरपंच बताया। इन लोगों ने उसके साथ ट्रैक्टर व कृषि यंत्र सीलर, कल्टीवेटर, बीटी बिजाई मशीन का सौदा डेढ़ लाख रुपए में तय कर लिया। उसे आश्वासन दिया कि डेढ़ लाख रुपए ट्रैक्टर की बकाया किश्तें भर कर एनओसी लेने के समय दे देंगे। सभी बकाया किश्तें इन्होंने भरनी तय की व उससे कुछ खाली कागजात पर हस्ताक्षर करवा लिए। उसे कहा कि फाइनेंस की किश्तें भरने व एनओसी इत्यादि लेने के लिए इन हस्ताक्षरों की जरूरत है। वे आरसी सहित अन्य कागजात साथ ले गए। उसे रुपए दिए बगैर ट्रैक्टर व कृषि यंत्र ले गए। उसे कोई भी कागजात उपलब्ध नहीं करवाया। पिछले दिनों फाइनेंस कम्पनी के कार्मिकों ने उसे किश्तें भरने को कहा तो उसे पता चला कि बूटासिंह वगैरा ने ट्रैक्टर की बकाया किश्तें नहीं भरी। तब उसने इन लोगों से सम्पर्क किया तो बूटासिंह व राजेश ने शीघ्र ही बकाया राशि भरने का आश्वासन दिया। लेकिन अब इन लोगों ने उसे डराना-धमकाना शुरू कर दिया है और ठगी की बात किसी को बताने पर झूठा मुकदमा बनाने व जान से मारने की धमकी दी। साथ ही कहा कि वह ट्रैक्टर व कृषि यंत्रों का सपना छोड़ दे। वे ट्रैक्टर व कृषि यंत्रों को खुर्द-बुर्द कर देंगे। अगर ज्यादा कुछ किया तो जला कर नष्ट कर देंगे। टिब्बी पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। मामले की जांच बशीर चौकी प्रभारी एएसआई विजेन्द्र नेहरा को सौंपी गई है।