Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

पत्नी की हत्या के मामले में पति गिरफ्तार:कोरोना काल में महिला की सामान्य मौत को पिता ने बताया था हत्या

बीकानेर. बीकानेर पुलिस ने मोनालिसा नामक महिला की हत्या के मामले में एक जने को गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल, मोनालिसा की हत्या दो साल पहले हुई थी, लेकिन तब इसे सामान्य मौत मानते हुए अंतिम संस्कार कर दिया गया। बाद में उसके पिता ने पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखकर हत्या की आशंका जताई। बीकानेर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित बुडानिया ने मामले की जांच करके इस हत्याकांड में शामिल भवानी सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

दरअसल, दो साल पहले मोनालिसा की हत्या हुई थी। तब मोनालिसा भवानी सिंह के साथ रहती थी। अब 21 नवम्बर 22 को उसके पिता 78 वर्षीय स्वप्न चौधरी ने सदर थाने में चार नामजद और एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ बेटी का मर्डर करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज किया था। मर्डर का यह मामला इसलिए भी चर्चा में था, क्योंकि इसमें हत्या का आरोपी परिवाद देने वाले बुजुर्ग का दामाद है। आरोप है कि मर्डर के मामले में गिरफ्तार झाड़ेली निवासी भवानी सिंह शेखावत ने अपनी पत्नी मोनालिसा की मौत कोरोना से होना बताया है, जबकि मृतका के पिता ने उसे मर्डर बताते हुए डीजी को परिवाद दिया था। डीजीपी के दखल के बाद सदर थाने में आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

जमीन हड़पने के लिए रचाई थी शादी

जयपुर रोड पर रहने वाले मृतका मोनालिसा के बुजुर्ग पिता स्वप्न चौधरी ने परिवाद में लिखा कि उसकी जयपुर रोड स्थित बेशकीमती जमीन को हड़पने के लिए ही भवानी सिंह ने उसकी बेटी से नजदीकियां बनाने के बाद फर्जी शादी रचाई थी। जबकि वह पहले से दो बच्चों का पिता था। परिवादी ने आरोप लगाया कि यह सारा खेल भवानी सिंह ने रविंद्र रामपुरिया के इशारे पर किया। आरोपियों ने उसकी बेटी की हत्या के लिए कई लोगों को सुपारी भी दी थी। लेकिन वे उसमें कामयाब नहीं हुए। कोरोनाकाल के दौरान उसकी बेटी के कोरोना पॉजिटिव होने के बात कहते हुए आरोपी तथाकथित पति भवानी सिंह ने उसका मर्डर कर दिया।

एएसपी को सौंपी थी जांच

मृतका मोनालिसा की मौत आरोपियों द्वारा कोरोना से होना बताने और पिता द्वारा उसकी बेटी का मर्डर किए जाने के आरोपों की जांच एएसपी अमित कुमार बुडानिया को सौंपी गई थी। एएसपी अमित कुमार बुडानिया ने बताया कि इस प्रकरण में परिवादी पिता स्वप्न चौधरी ने मृतका मोनालिसा के तथाकथित पति भवानी सिंह शेखावत, रविंद्र रामपुरिया, चिराग रामपुरिया, जसवंत जाट तथा एक अन्य व्यक्ति के खिलाफ मर्डर का मामला दर्ज करवाया था। शनिवार को आरोपी भवानी सिंह को पुलिस ने हत्या और साक्ष्य छुपाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अब अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी कर मोनालिसा की मौत से जुड़े तथ्यों का खुलासा करेगी।