Thursday, February 2निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

पंजाब में आतंकी हमले का अलर्ट

  • आतंकी सरकारी इमारतों को बना सकते निशाना, 2000 से अधिक जवान तैनात
    मोहाली (पंजाब)। खुफिया एजेंसियों ने नए साल पर पंजाब में आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया है। सूत्रों के अनुसार अलर्ट में बताया गया है कि आईएसआई के इशारे पर कई आतंकी संगठन पंजाब में दहशत फैलाने के उद्देश्य से हमला करवा सकते हैं। यह भी सूचना है कि कोर्ट काम्प्लेक्स, डीसी दफ्तर, एसएसपी दफ्तर, थानों के अलावा सरकारी कार्यालयों को निशाना बनाया जा सकता है। इनपुट के बाद पंजाब के प्रमुख स्थानों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सरकारी कार्यालयों की सुरक्षा में 2000 से अधिक जवान तैनात हैं।
    पुलिस फोर्स को 24 घंटे सतर्क रहने का भी आदेश दिया गया है। रात के समय विशेष नाकेबंदी की जा रही है। मोहाली जिले के हर एंट्री-एग्जिट प्वाइंट पर नाकाबंदी कर वाहनों की जांच की जा रही है। खुफिया सूचना के अनुसार पंजाब के कई जिलों में हाई अलर्ट जारी किया गया है। आतंकी अलर्ट के बाद मोहाली पुलिस ने भी कमर कस ली है। इस संबंध में पुलिस का कोई भी उच्चाधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। हालांकि जिला पुलिस ने जनता को अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।
    सनेटा चौकी पर हमले की मिली थी सूचना
    बता दें कि करीब 20 दिन पहले सनेटा चौकी पर हमले की सूचना मिली थी। इसके बाद डीएसपी गुरप्रीत भुल्लर ने एसएसपी और एसएचओ के साथ बैठक करके थानों की सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया गया था। इसके साथ ही गश्त बढ़ाने के साथ ही नाकों पर भी सख्ती बढ़ाई गई थी।
    सुरक्षा कड़ी की गई
    मोहाली पुलिस ने कोर्ट काम्प्लेक्स, डीसी दफ्तर व संवेदनशील सरकारी कार्यालयों के आस-पास सुरक्षा कड़ी कर दी है। सभी संवेदनशील स्थानों पर गश्त बढ़ा दी गई है व व्यस्त बाजारों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सुरक्षाकर्मियों की तैनाती की गई है।
    पूरे जिले को 41 जोन में बांटकर बढ़ाई सुरक्षा
    आतंकी हमले की सूचना के बाद मोहाली को 41 जोनों में बांटकर प्रत्येक जोन में पीसीआर की गश्त 24 घंटे की जा रही है। पुलिस की इस योजना पर काम करते हुए बुधवार को बेड़े में 28 नई पीसीआर गाड़ियां शामिल की गई हैं। मोहाली शहर में कुल 25 जोन, जीरकपुर में छह, खरड़ में चार, मुल्लांपुर और डेराबस्सी में दो-दो व कुराली और नयागांव में एक-एक जोन बना है। प्रत्येक जोन में पीसीआर की एक गाड़ी हर समय सड़क पर रहेगी। शहर से गुजरते नेशनल हाईवे पर भी पुलिस की मौजूदगी रहेगी ताकि आपराधिक किस्म के लोगों के बीच पुलिस का खौफ बरकरार रहे।