Wednesday, February 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

निजी स्कूलों की बालिकाओं की फीस का पुनर्भरण करेंगी राज्य सरकार

धौलपुर. राजस्थान सरकार की बजट घोषणा 2022-23 के अनुसार शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत कक्षा आठवीं में अध्ययनरत सभी बालिकाओं को कक्षा नवीं से बारहवीं तक अध्ययन जारी रखने पर फीस पुनर्भरण के लिए पोर्टल पर व्यवस्था की गई है। वर्तमान शैक्षिक सत्र 2021-22 में कक्षा आठवीं उत्तीर्ण करने वाली बालिकाएं, जो उसी निजी स्कूल जिसमें बालिका आरटीई के तहत नि:शुल्क अध्ययनरत थीं, राज्य स्थित अन्य गैर सरकारी स्कूल में अध्ययनरत हैं, उनको फीस पुनर्भरण राज्य सरकार की ओर से किया जाएगा।
पुनर्भरण के लिए पात्र बालिका की ओर से राजपीएसपी डॉट एनआइसी डॉट इन पर उपलब्ध पंजीकरण टेब पर जाना होगा। वहां पर अपना पंजीकरण करना होगा। पंजीकरण के बाद बालिकाओं को लॉगइन आइडी एवं पासवर्ड प्राप्त होंगे। इस अकाउंट के माध्यम से बालिका पुनर्भरण के लिए अपना आवेदन कर सकेंगी। शिक्षा विभाग की ओर की गई नई व्यवस्था से आठवीं में अध्ययनरत बालिकाओं को फीस रिफंड में सुविधा मिल सकेगी। आॅनलाइन आवेदन करने के बाद राज्य सरकार की ओर से फीस का पुनर्भरण किया जाएगा।
31 तक पंजीकरण, 15 जनवरी तक सत्यापन
इस योजना के तहत 31 दिसंबर तक बालिकाओं का आवेदन व पंजीकरण किया जाएगा। इसके बाद 15 जनवरी 2023 तक इसके सत्यापन का कार्य किया जाएगा। जिला शिक्षा अधिकारी ने गैर सरकारी स्कूलों के संस्था प्रधानों को निर्देश दिए हैं कि वे आरटीई पोर्टल के टेब पर प्रदर्शित हो रही इंदिरा शक्ति फीस पुनर्भरण की पात्र बालिकाओं के आवेदन कराने में सहयोग करेंगे।
दो किस्तों में होगा पुनर्भरण
निदेशक प्रारंभिक शिक्षा गौरव अग्रवाल ने जारी निर्देश में बताया है कि पात्र बालिकाओं को कक्षा नौ से 12 तक प्रति वर्ष दो किस्तों में ही फीस का पुनर्भरण किया जाएगा। यदि बालिका की ओर से प्रवेश लेने के पश्चात चार माह की अवधि से पूर्व विद्यालय छोड़ दिया जाता है तो उसे भुगतान नहीं किया जाएगा। चार माह पश्चात लेकिन सत्रांत से पूर्व विद्यालय छोड?े पर प्रथम किस्त का पुनर्भरण देय होगा, द्वितीय किस्त नहीं दी जाएगी। लाभान्वित बालिका के अनुतीर्ण होने पर उस सत्र का तो पुनर्भरण किया जाएगा लेकिन, आगामी सत्रों के लिए बालिका को इस योजना का लाभ देय नहीं होगा।
उक्त बालिकाओं के निशुल्क अध्ययन के लिए फीस की एवज में विद्यालय की ओर से ली जाने वाली फीस, सत्यापित फीस एवं यूनिट कॉस्ट में से जो भी कम है, उसका पुनर्भरण किया जाएगा। ये पुनर्भरण संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय माध्यमिक शिक्षा के माध्यम से पात्र, सत्यापित बालिकाओं को किया जाएगा। इस राशि का पुनर्भरण इंदिरा महिला शक्ति निधि से किया जाएगा।
इनका कहना है
शिक्षा विभाग के निदेर्शानुसार इंदिरा शक्ति फीस पुनर्भरण आरटीई के तहत अध्ययनरत पात्र बालिकाओं को कक्षा नौ से बारहवीं तक प्रति वर्ष दो किस्तों में ही फीस का पुनर्भरण किया जाएगा। लाभान्वित बालिका के अनुत्तीर्ण होने पर उस सत्र का तो पुनर्भरण किया जाएगा लेकिन, आगामी सत्रों के लिए बालिका को इस योजना का लाभ देय नहीं होगा। – अरविंद शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक, धौलपुर