Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

नहरी पानी के लिए धरना:नहर टूटने से जिन किसानों को नहीं मिला पानी, वो अब आंदोलन की राह पर

बीकानेर

इंदिरा गांधी नहर परियोजना की पूगल ब्रांच के किसानों ने नहर टूटने पर किसानों को अतिरिक्त सिंचाई पानी देने व नहरों की रि-लाइनिंग करवाने की मांग को लेकर खाजूवाला उपखंड कार्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया। किसान नेता साहबराम गोदारा के नेतृत्व में पूगल ब्रांच की अंतिम छोर के किसानों ने सिंचाई विभाग के खिलाफ उदासीनता व लापरवाही को लेकर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर प्रदर्शन शुरू किया है। नारेबाजी कर नहर महकमें के खिलाफ आक्रोश जताया।

किसानों का आरोप है कि पिछले दिनों नहर टूटने के कारण बड़ी संख्या में किसानों की बारी छूट गई। ऐसे में फसल बर्बाद होने के कगार पर है। नहर विभाग के अधिकारियों को बारी नए सिरे से तय करने की मांग की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। ऐसे में अब पूगल ब्रांच के तीन किसान बुधवार से आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। किसानों ने मुख्यमंत्री के नाम खाजूवाला तहसीलदार गिरधारी सिंह को ज्ञापन भी सौंपा। जिसमें किसानों ने पूगल ब्रांच टूटने से जिन किसानों के खेत पानी से वंचित हुए है उन्हें 300 क्यूसेक 3 दिन अतिरिक्त नहर में पानी चलाकर नुकसान की भरपाई करवाने की मांग की हैं, ताकि सिंचाई पानी के अभाव में जल रही फसल को बचाया जा सकें।

नहरमें रि-लाइनिंग की मांग

इसके अलावा पूगल शाखा की सभी वितरिकाओं और माईनरों की रि-लाइनिंग अतिशीघ्र शुरू करवाने की मांग की है। जिससे टेल तक किसानों को नियमित पानी की आपूर्ति हो सकें। वहीं किसानों न पूगल ब्रांच के किसानों की समस्याओं का समाधान नहीं करने पर अनिश्चितकालीन धरना-प्रर्दशन जारी रखते हुए आमरण अनशन पर ज्यादा सख्यां में किसानों के बैठने की चेतावनी दी हैं। इस दौरान साहबराम गोदारा, राजपाल भाम्भू, पतराम, तुलछाराम, भंवरलाल, सुभाष ज्याणी, मांगीलाल वर्मा, राजू नेहरा, हरिराम भाम्भू, अमर सिंह, रामप्रताप, राकेश भादू सहित टेल के किसान मौजूद रहे।

ये किसान आमरण अनशन पर

पूगल ब्रांच के अन्नदाताओं की समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर आज बुधवार को 3 किसान आमरण अनशन पर बैठ गए हैं। जिसमें खाजूवाला एसडीएम कार्यालय के सामने किसानों के हित में साहबराम गोदारा निवासी 16 डीडब्ल्यूडी, मांगीलाल निवासी 10 केएलडी व काशीराम जाखड़ 4 डीडब्ल्यूडी आमरण अनशन पर बैठकर विरोध प्रर्दशन जताएंगे।

केजेडी में भी आंदोलन
इधर केजेड़ी नहर के किसानों ने किया सिंचाई विभाग कार्यालय पर प्रदर्शन कर एक्सईएन को ज्ञापन सौंपा।
अनूपगढ़ शाखा से निकलने वाली केजेड़ी नहर के गुल्लुवाली क्षेत्र के किसानों ने भी मंगलवार को सिंचाई विभाग कार्यालय खाजूवाला पर प्रर्दशन किया। किसान भादर गोदारा के नेतृत्व में केजेड़ी नहर के चक 29 केजेड़ी व 30 केजेड़ी के काश्तकारों ने नहर के मोघों में लगी एपीएम मशीन में तकनीकी डिजायन में गड़बड़ी की जांच कर किसानों को पूरा पानी दिलाने की मांग की हैं।

इस संबंध में किसानों ने खाजूवाला सिंचाई विभाग के एक्सईएन ओमप्रकाश को ज्ञापन सौंपा। जिसमें 29 केजेड़ी व 30 केजेड़ी नहर में मोघों पर लगाई गई एपीएम मशीन को बदलने की मांग की हैं। किसानों का आरोप हैं कि नहर में काफी ऊंचाई पर मशीन लगाने से 3 इंच पानी खाली चल रहा हैं। इसलिए सिंचाई में भी पानी खेतों में कम पहुंच रहा हैं और आने वाले दिनों में मोघों में कम पानी होने पर पेयजल के लिए भी किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। इसलिए किसानों ने एपीएम मशीन की तकनीकी डिजायन में हुई गड़बड़ी की जांच कर दुबारा लगाने की मांग की हैं ताकि किसानों को पहले के अनुसार पूरा पानी मिल सके। इस दौरान मानसिंह, प्रकाश सिंह, जगदीश, प्रीतम सिंह, लालूराम, दशरथ, रामकरण, हंसराज आदि किसान मौजूद रहे।