Thursday, February 2निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

देश-दुनिया में कोरोना का खतरा:चीन में 35 दिनों में 60 हजार मौतें, 64% आबादी संक्रमित

चीन में कोरोना के मामले बढ़ने के साथ ही भारत, जापान और अमेरिका जैसे देशों में भी नई लहर का खतरा मंडराने लगा है। इसी बीच चीन ने जीरो कोविड पॉलिसी हटाने के बाद पहली बार कोरोना से हुई मौतों का आधिकारिक आंकड़ा जारी किया है। चीन की हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, 8 दिसंबर से 12 जनवरी तक 60 हजार लोगों की मौत हुई। मरने वाले ज्यादातर लोगों की उम्र 65 साल से ज्यादा थी।

इधर, चीन की पेकिंग यूनिवर्सिटी की रिसर्च के मुताबिक, 11 जनवरी तक देश की 64% आबादी यानी 90 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस रिपोर्ट में ये भी कहा गया कि गांसु प्रांत की 91% आबादी, हेनान प्रांत की 89% आबादी, युनान की 84% आबादी और किंघाई प्रांत की 80% आबादी संक्रमित है।

पहले जानिए भारत में क्या है कोरोना की स्थिति…

भारत में शुक्रवार को 181 नए मामले सामने आए। एक मौत दर्ज की गई। हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, देश में अभी 1,254 एक्टिव केस हैं। कोरोना के शुरुआती दौर से अब तक देश में 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

अब जानिए दुनिया में कोरोना की क्या स्थिति है…

चीन : 8-12 जनवरी तक 4 लाख से ज्यादा एंट्री और एग्जिट ट्रिप हुईं
चीन ने 8 जनवरी को तीन साल से बंद सभी बॉर्डर को खोल दिया। इसके बाद से 4 लाख से ज्यादा लोगों चीन आए और यहां से दूसरे देश गए। लोगों के लिए क्वारैंटाइन जैसा बड़ा प्रोटोकॉल भी खत्म कर दिया गया है। एक अधिकारी ने कहा- 8 जनवरी से 12 जनवरी के बीच 4 लाख 90 हजार एंट्री और एग्जिट ट्रिप हुईं। इसमें से 2 लाख 50 हजार लोग चीन आए और 2 लाख 40 हजार लोग चीन से दूसरे देश गए।

ये जीरो कोविड पॉलिसी हटाए जाने से पहले की अवधि से 48.9% ज्यादा है। चीन में लूनर न्यू ईयर 21 जनवरी से शुरू हो जाएगा। ऐसे में अगले 40 दिन में देश में 200 करोड़ लोगों के आने-जाने की संभावना है।