Friday, December 9निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

दूसरे मुकाबले से पहले सुनील गावस्कर ने बताई टीम इंडिया की बड़ी कमजोरी

नई दिल्ली
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की टी20 सीरीज का दूसरा मैच शुक्रवार को नागपुर में खेला जाएगा। रोहित शर्मा के नेतृत्व वाली भारतीय टीम के लिए करो या मरो का मुकाबला होगा। क्योंकि पहले मैच में भारत को 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा है और अगर आज टीम नहीं जीतती है, तो सीरीज हार जाएगी। 
मोहाली में खेले गए पहले टी20 मैच में भारतीय बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 208 रन बनाए। लेकिन गेंदबाजों ने काफी खराब गेंदबाजी की और इस वजह से ऑस्ट्रेलिया ने 4 गेंद शेष रहते ये मैच अपने नाम किया। ये पहला मौका नहीं था, जब टीम ने किसी टोटल को डिफेंड करते हुए मैच गंवाया हो, इससे पहले एशिया कप 2022 में भी टीम को कई मैचों में लक्ष्य का बचाव करते हुए हार का सामना करना पड़ा।

हाल ही में समाप्त हुए एशिया कप में भारतीय टीम 170 से ज्यादा रनों को भी पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ डिफेंड नहीं कर सकी और अब ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 209 रनों का टारगेट भी छोटा पड़ गया है। पिछले साल वर्ल्ड कप के दौरान भी टीम इंडिया की ये कमजोरी दिखी थी, जब पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम को हार मिली थी और अभी समस्या वही है। 

पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर ने कहा कि यह मुद्दा पिछले कुछ वर्षों से भारतीय क्रिकेट में बना हुआ है और अगर भारत बड़े टूर्नामेंट जीतना शुरू करना चाहता है, तो मुद्दों को जल्द से जल्द हल करने की जरूरत है।

गावस्कर ने स्पोर्ट्स तक से कहा, ”ये भारत की कमजोरी है। कोई नई समस्या नहीं है। स्कोर का बचाव करने के दौरान पिछले कुछ सालों से ये अस्तित्व में है। उन्हें बुमराह के बिना ये मुश्किल लगता है। जब वह होता है, तो स्कोर को डिफेंड किया जा सकता है, लेकिन बिना उसके, वे 200 से ज्यादा टोटल का भी बचाव नहीं कर सके। हमें इसका समाधान देखना होगा। नहीं तो आगे जाकर यह उन्हें चोट पहुंचा सकता है।”