Thursday, December 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

दादी सा का निधन:बीमारी और लॉकडाउन में काम की कमी के बावजूद सुरेखा सीकरी ने नहीं ली थी किसी से आर्थिक मदद, कहा था-‘भीख नहीं, काम दीजिए, मैं सम्मान से पैसा कमाना चाहती हूं’

75 साल की जानी-मानी एक्ट्रेस सुरेखा सीकरी का कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन हो गया। उन्होंने शुक्रवार सुबह अंतिम सांस ली। तीन नेशनल अवॉर्ड जीत चुकीं सुरेखा 2020 तक काफी एक्टिव थीं। वह फिल्मों और टेलीविजन सीरियलों मी लगातार दिख रही थीं लेकिन पिछले एक साल से ख़राब स्वास्थ्य और लॉकडाउन ने उन्हें एक्टिंग से दूर कर दिया था।

पिछले साल सुरेखा सीकरी ने पिछले दिनों महाराष्ट्र सरकार के उस फैसले का विरोध किया था जिसमें कहा गया था कि 65 साल से ऊपर के लोग फिल्म या टेलीविजन सीरियल की शूटिंग में हिस्सा नहीं ले सकते।

एक इंटरव्यू में सुरेखा ने कहा था कि हालांकि उन्हें कुछ ऑफर मिले हैं लेकिन वो सारे एड फिल्मों के हैं। सुरेखा ने कहा था, अभी तक कुछ भी फाइनल नहीं हुआ है। एड फिल्मों के ऑफर मेरे लिए काफी नहीं हैं, मुझे और ज्यादा काम करना पड़ेगा क्योंकि मेडिकल बिल के अलावा मेरे अन्य भी कई खर्चे हैं लेकिन प्रोड्यूसर्स कोई रिस्क नहीं ले सकते।

2020 में आई फिल्म 'घोस्ट स्टोरीज' में सुरेखा।

2020 में आई फिल्म ‘घोस्ट स्टोरीज’ में सुरेखा।

‘मैंने नहीं मांगी आर्थिक मदद’

इस इंटरव्यू में उनकी बातें सुनकर कुछ लोगों ने यह गलत खबरें फैला दीं कि वह अपने दोस्तों से पैसे मांग रही हैं और उनकी आर्थिक स्थिति खराब है। उन्होंने इन खबरों पर रिएक्शन देते हुए कहा था, ‘मैं लोगों के बीच किसी भी तरह का गलत इम्प्रेशन नहीं बनाना चाहती कि किसी से भीख मांग रही हूं। मुझे चैरिटी नहीं चाहिए। हां, कई लोगों ने मेरी आर्थिक मदद करने की कोशिश की जिसके लिए मैं उनकी बहुत आभारी हूं। लेकिन मैंने किसी से कोई आर्थिक मदद नहीं ली है। मुझे काम दीजिए और मैं सम्मान से पैसा कमाना चाहती हूं।’

ब्रेन स्ट्रोक से जूझ रही थीं सुरेखा

सुरेखा ने एक इंटरव्यू में कहा था, ‘अगर नेता और ब्यूरोक्रेट्स 65 साल की उम्र में काम कर सकते हैं तो एक्टर और तकनीशियन बाहर जाकर काम क्यों नहीं कर सकते? हम सब मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं, हमें भी जीवनयापन करने के लिए पैसा चाहिए, ऐसे नियमों से हमारे लिए मुश्किल खड़ी हो जाती है।’

2018 में सुरेखा को ब्रेन स्ट्रोक हो गया था जिसके बाद उनके शरीर का आधा हिस्सा पैरालाइज हो गया। इससे उबरने में उन्हें कुछ वक्त लगा जिसकी वजह से वह काम नहीं कर पाईं। इसका असर उनकी आर्थिक स्थिति पर भी पड़ा था और उन्होंने कहा था कि वह काम पर लौटना चाहती हैं। अंतिम बार फिल्म घोस्ट स्टोरीज में दिखीं सुरेखा ने कहा था, ‘मैं सभी जरूरी सावधानियों के साथ काम पर जाने को तैयार हूं। मैं ज्यादा दिन घर में नहीं बैठ सकती और अपने परिवार पर बोझ नहीं बन सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *