Saturday, December 10निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

त्योहारी सीजन पर कैसा रहेगा टैक्स कलेक्शन? एक्सपर्ट के ये हैं अनुमान

नई दिल्ली
आयकर संग्रह में वृद्धि का चलन आने वाले महीनों में भी जारी रहने का अनुमान है। इसकी वजह यह है कि अनुपालन बेहतर हुआ है, कॉरपोरेट जगत का लाभ बढ़ा है और त्योहारी सीजन में कारोबार में भी वृद्धि हुई है। विशेषज्ञों का ऐसा मत है। देश में आर्थिक गतिविधियां बढ़ने की वजह से कॉरपोरेट कर और निजी आयकर संग्रह में चालू वित्त वर्ष के दौरान वृद्धि देखने को मिली है। अप्रैल से सितंबर मध्य की अवधि में सकल प्रत्यक्ष कर संग्रह 30 प्रतिशत बढ़कर 8.36 लाख करोड़ रुपये रहा है।
डेलॉयट इंडिया में भागीदार रोहिंग्टन सिधवा ने कहा कि आर्थिक गतिविधियों में तेजी के अलावा कर संग्रह में वृद्धि की वजह अनुपालन बढ़ना है जो रिर्टन की संख्या से जाहिर है। उन्होंने कहा, ”ऐसी उम्मीद है कि कर संग्रह में वृद्धि का चलन अभी के लिए जारी रहेगा। पिछली तिमाही के कॉरपोरेट कर रिटर्न अभी भरे नहीं गए हैं लेकिन अग्रिम कर संग्रह के मजबूत रूझान से संग्रह बढ़ने के संकेत मिलते हैं।” ईवाई इंडिया के कर एवं नियामकीय सेवाओं के भागीदार सुधीर कपाड़िया ने कहा कि कॉरपोरेट जगत की लाभदायक वृद्धि बढ़ी है, इसकी वजह कुछ हद तक ऊंची मुद्रास्फीति चलते उपभोक्ता कीमतें बढ़ना है।