Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

तालाब में डूबने से तीन भाइयों की मौत:बकरी चराते समय नहाने उतरे

  • एक डूबा तो दो बचाने उतरे
    सुजानगढ़।
    चूरू जिले की बीदासर तहसील के गांव ढढेरू गोदारान के किल्डाली जोहड़ तालाब में डूबने से दो सगे भाइयों समेत तीन की मौत हो गई। तीसरा इनका चचेरा भाई है। ये तीनों बकरियों को चराने के लिए गांव के पास ही तालाब पर गए थे। बकरियों को छोड़कर ये तालाब में नहाने उतर गए। इसी दौरान एक भाई का पैर फिसल गया और वह डूबने लगा। जिस पर एक भाई उसे बचाने के लिए उसके पास पहुंचा, लेकिन वह भी डूबने लगा। इसके बाद तीसरा भाई उनके पास पहुंचा। जिसके बाद ये तीनों ही बाहर नहीं निकल सके और तालाब में डूब गए।
    तालाब में डूबने से कानाराम (22) उसका छोटा भाई गोपाल (15) और चचेरे भाई छोटूराम (15) की डूबने से मौत हो गई। स्थानीय गोताखोरों ने कड़ी मशक्कत के बाद तीनों के शवों को तालाब से बाहर निकाला।
    सूचना मिलने पर बीदासर थानाधिकारी महेंद्र कुमार और तहसीलदार द्वारकाप्रसाद शर्मा मय पुलिस जाप्ता के साथ मौके पर पहुंचे और तीनों शवों को मोर्चरी में रखवाया। तीन युवकों की मौत के बाद गांव में शोक की लहर छा गई।
    गांव का ही दूसरा युवक बचा
    तालाब के पास ही गांव का एक अन्य युवक सुरेंद्र मेघवाल भी बकरियां चरा रहा था। उसने बताया कि तीनों युवकों ने उसे भी तालाब में साथ नहाने के लिए बोला था, लेकिन उसने मना कर दिया। कुछ ही देर बाद उसे बचाओ-बचाओ की आवाजें सुनाई दी। जिसके बाद उसने जाकर देखा, तो 2 युवक डूब रहे थे और तीसरा उन्हें बचाने का प्रयास कर रहा था। सुरेंद्र ने दौड़ कर पास बनी ढाणी में जाकर अपने पिता व आसपास के लोगों को बताया। जिससे के बाद लोग दौड़कर तालाब के पास पहुंचे, लेकिन तब तक तीनों पानी मे डूब चुके थे। ग्रामीणों ने घटना के बारे में सरपंच सुरेश खेरिया को सूचना दी। जिसके बाद सरंपच गांव से गोताखोरों को लेकर मौके पर पहुंचे और प्रशासन को जानकारी दी।