Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

ढोली बस्ती के बच्चों की शिक्षा का खर्च उठाएंगे भामाशाह:प्रभु दयाल ने बाल संस्कार केंद्र को लिया गोद

अनूपगढ़. अनूपगढ़ की समाज सेवी संस्था सेवा भारती के द्वारा पिछड़ी बस्ती के बच्चों को शिक्षित करने के लिए बाल संस्कार केन्द्र संचालित किए जा रहे हैं। इन बाल संस्कार केंद्रों पर भामाशाहों के सहयोग से बच्चों को शिक्षित करने का कार्य किया जाता है। आज अनूपगढ़ के भामाशाह प्रभु दयाल नागपाल के द्वारा ढोली बस्ती में संचालित बाल संस्कार केंद्र को गोद लेने की घोषणा की गई है।

कार्यक्रम के दौरान भामाशाह ने घोषणा की है कि वह प्रतिवर्ष एक बाल संस्कार केंद्र को गोद लेंगे और उस केंद्र पर बच्चों को शिक्षित करने के लिए जो भी खर्च होगा उसका वहन करेंगे। सेवा भारती के तिलक राज चुघ ने बताया कि पूर्व में भी समय-समय पर भामशाह प्रभु दयाल नागपाल के द्वारा सेवा भारती का सहयोग किया जाता रहा है। उनके द्वारा की गई घोषणा से पिछड़ी बस्ती के बच्चों को शिक्षा के क्षेत्र में एक नया आयाम मिलेगा।

सेवा भारती के सतीश नागपाल ने बताया कि पिछड़ी बस्ती के बच्चों को शिक्षित करने के लिए सेवा भारती के द्वारा केंद्र पर पढ़ने वाले बच्चों को भामाशाह के सहयोग से पुस्तकें, यूनिफॉर्म सहित अन्य सामान उपलब्ध करवाया जाता है। भामाशाह प्रभु दयाल नागपाल के द्वारा की गई घोषणा से सेवा भारती को एक नई ऊर्जा मिली है।

कार्यक्रम के दौरान गर्म कपड़े किए वितरित

ढोली बस्ती में आयोजित कार्यक्रम के दौरान भामाशाह प्रभु दयाल नागपाल के द्वारा 50 बच्चों को गर्म कपड़े वितरित किए गए हैं। सेवा भारती के नवीन छाबड़ा ने बताया कि आज कार्यक्रम में भामाशाह अपने परिवार के साथ पहुंचे और कार्यक्रम में उपस्थित बच्चों और उनके अभिभावकगणों के लिए भामाशाह की ओर से अल्पाहार की भी व्यवस्था की गई थी।