Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

डकैती के इरादे से निकले 5 आरोपी पकड़े:आरोपियों में एक केसरीसिंहपुर फायरिंग में है वांछित, हथियार बरामद

श्रीगंगानगर. जिले की पदमपुर थाना पुलिस ने बुधवार को डकैती के इरादे से निकले पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से रॉड, पिस्तौेल, कारतूस, कापा बरामद हुए हैं। पकड़े गए आरोपियों में से एक करीब एक माह पहले केसरीसिंहपुर में फायरिंग के मामले में भी वांछित हैं वहीं अन्य आरोपियों पर भी कई मामले दर्ज है। आरोपी ये हथियार कहां से लाए तथा वे यहां से किस वारदात को अंजाम देने की तैयारी कर रहे थे, इस बारे में पुलिस जानकारियां जुटा रही है।

एक डीडी के पास किया गिरफ्तार

आरोपियों को गांव एक डीडी के पास से गिरफ्तार किया गया। पदमपुर पुलिस को इलाके में कुछ युवकों के हथियारों से लैस होकर किसी डकैती की वारदात के लिए जाने की सूचना मिली थी। मुखबिरों के जरिए मिली सूचना के आधार पर नाकेबंदी करवाई गई। गांव एक डीडी के पास पुलिस को दो मोटरसाइकिलों पर पांच युवकों के जाने की सूचना मिली। इस पर पीछा करके युवकों को रोका गया। तलाशी ली तो इनके पास एक बारह बोर की लोडेड देसी पिस्तौल मिली। इसके अलावा बारह बोर के तीन जिंदा कारतूस, एक कापा, एक रॉड, लोहे की सब्बल बरामद हुए। आरोपियों की दोनों मोटरसाइकिल भी जब्त की गई हैं।

इन्हें किया गिरफ्तार

पकड़े गए आरोपियों में मटीलीराठान का शरणदीप सिंह उर्फ सन्नू (23) पुत्र करतार सिंह, गांव तीन एमके का झंडासिंह (22 )पुत्र काला सिंह, एक सीसी छोटी का रहने वाला गुरविंद्र सिंह उर्फ गग्गी (25 ) पुत्र जसवीर सिंह, गुरप्रीतसिंह उर्फ सोनी (26 ) पुत्र गुरदास सिंह और तीन डीडी का खुशदीप सिंह उर्फ छिंदा (24) पुत्र पवित्रपाल सिंह शामिल हैं। इनमें झंडा सिंह अभी पदमपुर के वार्ड 21 में रह रहा है।

केसरीसिंहपुर फायरिंग मामले में है वांछित

आरोपियों में शामिल मटीलीराठान का शरणदीपसिंह उर्फ सन्नू (23) पुत्र करतारसिंह केसरीसिंहपुर में एक माह पहले हुई फायरिंग के मामले में वांछित है। केसरीसिंहपुर के ऊधमसिंह चौक पर हुई फायरिंग में एक व्यक्ति की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। पदमपुर एसएचओ रामकेश मीणा ने बताया कि शरणदीप सिंह केसरीसिंहपुर फायरिंग के उस मामले में वांछित है। आरोपियों पर कई अन्य आरोप भी हैं।