Tuesday, December 6निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

जोशी मुख्यमंत्री और डोटासरा डिप्टी सीएम; राजस्थान में एक नए फॉर्मूले पर भी विचार

जयपुर
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत का कांग्रेस अध्यक्ष बनना लगभग तय माना जा रहा है। शशि थरूर के मुकाबले उनका पलड़ा भारी बताया जाता है। लेकिन गहलोत के बाद राजस्तान में क्या होगा, इस पर अभी सस्पेंस कायम है। गहलोत के बाद राजस्थान की गद्दी कौन संभालेगा यह अभी तय नहीं हुआ है। आज शाम जयपुर में सीएम आवास पर विधायक दल की बैठक बुलाई गई है, जिसमें दिल्ली से भेजे गए पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे और प्रभारी अजय माकन भी मौजूद रहेंगे।
संभावना है कि मुख्यमंत्री गहलोत विधायक दल की बैठक में पद छोड़ने की पेशकश कर सकते हैं। गहलोत के नामांकन से पहले ही राजस्थान को नया मुख्यमंत्री मिल सकता है। पायलट दौड़ में सबसे आगे माने जा रहे हैं। लेकिन गहलोत की उनके नाम पर सहमित नहीं होने की वजह से कुछ अन्य समीकरणों पर विचार चल रहा है। बताया जा रहा है कि गहलोत पायलट को रोकने के लिए अपनी ‘जादूगरी’ दिखा सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक, गहलोत 2018 की घटना को लेकर अब भी पायलट से नाराज हैं और वह उन्हें अपना उत्तराधिकारी बनाने को तैयार नहीं हैं। बताया जा रहा है कि इस बीच एक नए फॉर्मूले पर भी विचार चल रहा है जिसके तहत विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है तो प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा को डिप्टी सीएम का पद दिया जा सकता है। वहीं, सचिन पायलट को एक बार फिर प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा सकता है।