Wednesday, February 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

जन आक्रोश यात्रा का मजाक बना:रथ के पास नहीं दिखी भीड़, शहर अध्यक्ष बोले- ट्रैफिक के कारण बंट गई थी यात्रा

बीकानेर. बीकानेर में भारतीय जनता पार्टी की जन आक्रोश यात्रा का एक वीडियो सामने आया है। इसका पार्टी कार्यकर्ता ही मजाक बना रहे हैं। जन आक्रोश यात्रा के रथ के आगे पीछे कार्यकर्ता नहीं होने के बावजूद वहां भारी भीड़ बताते हुए कमेंट्री की जा रही है। अब ये वीडियो पार्टी में चर्चा का विषय बन गया है।

दरअसल, पिछले दिनों पवनपुरी में जन आक्रोश यात्रा पहुंची थी। यहां से यात्रा आगे बढ़ती जा रही थी, लेकिन रथ के आसपास कार्यकर्ताओं की संख्या बहुत कम थी। दस-पंद्रह कार्यकर्ता भी मौके पर नहीं थे। इसी दौरान पार्टी से जुड़े किसी कार्यकर्ता ने ये बोलते हुए वीडियो बना लिया कि भारी भीड़ के बीच रथ आगे नहीं बढ़ पा रहा है। सड़क पर जाम जैसे हालात हो गए हैं। ये वीडियो वैसे तो हंसी मजाक में बनाया गया लेकिन दोस्तों से होते हुए ये अब वायरल हो गया। कांग्रेस सोशल मीडिया से जुड़े कार्यकर्ता भी इसे आगे से आगे वायरल कर रहे हैं।​​​​​ ​​इस वायरल वीडियो की फिलहाल पुष्टि नहीं हुई है।

दो हिस्सों में बंट गई थी यात्रा
शहर अध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह ने बताया कि जन आक्रोश यात्रा में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता थे लेकिन अंबेडकर कॉलोनी की गलियां संकड़ी है, इसलिए कारें ट्रैफिक में फंस गई। इसलिए दो हिस्सों में यात्रा बंट गई। वीडियो जिसने बनाया है, उसका व्यक्तिगत द्वेष है। हकीकत में यात्रा काफी सफल है।

आपसी खींचतान का असर

शहर व देहात भाजपा में अंदरुनी खींचतान के चलते ऐसे हालात बन रहे हैं। पार्टी कार्यकर्ता से लेकर एमएलए तक इस कार्यक्रम को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। गांधी पार्क से जब बीकानेर पूर्व और पश्चिम से यात्रा शुरू हुई, तब भी कार्यकर्ताओं की संख्या बहुत कम थी। अब वार्डों में भी महज औपचारिकता हो रही है।