Saturday, December 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

जनआधार में अब एक से ज्यादा बार करवा सकेंगे करेक्शन:1 करोड़ 77 लाख परिवार बर्थ डेट से लेकर नाम, एड्रेस बदल सकेंगे

जयपुर. जन आधार कार्ड से जुड़े राजस्थान के 1 करोड 77 लाख परिवार अब एक से ज्यादा बार संशोधन कर सकेंगे। पहले केवल एक ही बार संशोधन का मौका दिया जाता था। दूसरी बार संशोधन लिए जन आधार पोर्टल पर कोई विकल्प नहीं था।
दरअसल, जन आधार कार्ड बनवाने के दौरान परिवार के मुखिया का नाम, सदस्य का नाम, जन्मतिथि, जेंडर या जाति को लेकर कई बार ई-मित्र संचालक या अन्य किसी कारण से गलती रह जाती थी। ऐसी ही गलतियों को जन आधार में ठीक करवाने के लिए परेशान हो रहे थे, जिसको लेकर कई शिकायतें भी मिल रही थी। इसे देखते हुए राजस्थान जन आधार प्राधिकरण की अध्यक्ष एवं मुख्य सचिव उषा शर्मा ने आदेश जारी करते हुए एक बार से ज्यादा बार संशोधन का विकल्प देने का निर्णय किया। इसके लिए जिला कलेक्टर और जिला जन आधार योजना अधिकारी को पावर दी गई है।
अधिकारी लेंगे फैसला
जन आधार में एक बार से ज्यादा बार करेक्शन पर जिला कलेक्टर और जिला जन आधार योजना अधिकारी ही निर्णय लेंगे। आवेदन आने पर दोनों अधिकारी उसकी जांच करेंगे। इस दौरान आवेदक को व्यक्तिगत रूप से इनके सामने पेश होना होगा। संशोधन के कारण बताने पड़ेंगे। दस्तावेज की जांच-पड़ताल और आवेदक का पक्ष सुनने के बाद कलेक्टर या जिला जन आधार योजना अधिकारी आवेदन को अप्रूवल या रिजेक्ट करेगा।