Thursday, February 2निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

छुटि्टयां खत्म होते ही बढ़ेगी सर्दी:मौसम ने शिक्षा विभाग को फिर दिया चकमा, पांच जनवरी तक सर्दी की छुट्टी, इसके बाद ही बढ़ेगी सर्दी

बीकानेर. आमतौर पर स्कूल खुलने के साथ ही सर्दी तेज हो जाती है और शिक्षा विभाग को छुटि्टयां करनी पड़ती है। इस बार जब शिक्षा विभाग ने शीतकालीन अवकाश ही पांच जनवरी तक बढ़ा दिए हैं तो सर्दी भी पांच जनवरी के बाद ही बढ़ने की कोशिश में है। बीकानेर सहित कई शहरों में पिछले दस दिन में न्यूनतम तापमान में साढ़े चार डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी हुई है, लेकिन अब धीरे धीरे तापमान कम हो रहा है। सीकर के फतेहपुर में तापमान जहां माइनस में 0.7 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया है, वहीं बीकानेर संभाग के चूरू में न्यूनतम तापमान माइनस में 0.5 डिग्री सेल्सियस है। राज्य के पंद्रह शहरों में पारा पांच डिग्री सेल्सियस से कम है। ऐसे में शिक्षा विभाग को एक बार फिर शीतकालीन अवकाश बढ़ाना पड़ सकता है।

दिसम्बर अंतिम सप्ताह में सर्दी

प्रदेशभर में दिसम्बर के अंतिम सप्ताह में जबर्दस्त सर्दी रही थी। एक जनवरी से अब तक सर्दी में कुछ कमी आई लेकिन जैसे ही शीतकालीन अवकाश खत्म होने का समय आया है, वैसे ही सर्दी बढ़ने लगी है। बुधवार सुबह बीकानेर संभाग के चूरू में तापमान माइनस 0.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। वहीं पड़ौस में ही सीकर के फतेहपुर में तापमान माइनस 0.7 डिग्री सेल्सियस हो गया।

पंद्रह शहरों में पारा 5 से नीचे, दो में माइनस

प्रदेश के पंद्रह जिलों में तापमान अब पांच डिग्री सेल्सियस से कम हो गया है। इनमें करौली में 2.2 डिग्री सेल्सियस, चित्तौड़गढ़ 4.8, अंता (बारां) में 1.4, बूंदी 3.4, धौलपुर 3.6, चूरू -00.5 (माइनस में), बीकानेर 4.6, बूंदी 3.6, कोटा 4.5, सीकर 2.0, पिलानी 2.7, जयपुर 4.6, अलवर 4, वनस्थली 3.2 तथा भीलवाड़ा 1.8 व फतेहपुर (सीकर) -0.7 (माइनस में) डिग्री सेल्सियस तापमान रहा है।

बीकानेर में भी घटा तापमान

बीकानेर में 26 दिसम्बर को तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था, जबकि पिछले चौबीस घंटे में न्यूनतम तापमान 4.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। जबकि इससे पहले सोमवार की रात बीकानेर में न्यूनतम तापमान 6.9 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। करीब साढ़े चार डिग्री सेल्सियस तापमान में बढ़ोतरी के बाद फिर से पारा गिरना शुरू हाे गया है। बीकानेर में सर्दी कम हुई है। कोहरा भी पिछले कुछ दिन से नजर नहीं आ रहा है। अधिकतम तापमान में भी बढ़ोतरी हुई है। 26 दिसम्बर को अधिकतम तापमान 20.7 डिग्री सेल्सियस था जो अब 22.5 डिग्री सेल्सियस पर है। हालांकि 29 दिसम्बर को अधिकतम तापमान 28.5 डिग्री सेल्सियस था, जो घट गया है। दिन में सर्दी बढ़ी है लेकिन रात में सर्दी बढ़ने के बजाय कम हुई है।

कहीं-कहीं कोहरा

बीकानेर संभाग में कहीं-कहीं पिछले हल्का कोहरा भी नजर आया है। मौसम विभाग की मानें तो बुधवार को बीकानेर, जयपुर, भरतपुर व कोटा सम्भाग के कुछ भागों में घना कोहरा दर्ज किया गया है। अगले कुछ दिन तक सर्दी का असर बढ़ सकता है।

छुट्टी बढ़ाने का प्रस्ताव नहीं

उधर, शिक्षा विभाग ने पांच जनवरी के बाद शीतकालीन अवकाश बढ़ाने का कोई प्रस्ताव तैयार नहीं किया है। आमतौर पर शिक्षा निदेशालय ही प्रस्ताव देता है, जिस पर राज्य सरकार स्वीकृति देती है। इस बार ऐसा कोई प्रस्ताव तैयार नहीं किया गया है। अगर सर्दी इसी तरह बढ़ती रही तो राज्य सरकार सीधे अवकाश बढ़ाने की घोषणा भी कर सकता है। ये भी संभव है कि सर्दी से ज्यादा प्रभावित जिलों में छुट्टी करने का अधिकार ही फिर से कलक्टर को सौंप दिया जाए। शिक्षा विभाग के उप निदेशक रमेश हर्ष ने बताया कि फिलहाल शीतकालीन अवकाश बढ़ाने को लेकर कोई चर्चा नहीं है।