Wednesday, February 1निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

चूरू-फतेहपुर में पारा माइनस में

  • हफ्तेभर राहत के बाद ठंड फिर करेगी पलटवार; 5 साल बाद बिना बारिश के निकलेगी आधी जनवरी
    जयपुर।
    राजस्थान में पारा माइनस में पहुंच चुका है। सर्दी रोज नए रिकॉर्ड बना रही है। देर रात चूरू और फतेहपुर में पारा माइनस में रिकॉर्ड हुआ। अब कुछ दिन पारा बढ़ेगा, फिर मकर संक्रांति से तापमान फिर माइनस में जा सकता है।
    दरअसल, कुछ दिन बनने के बाद वेस्टर्न डिर्स्टबेंस के कारण पहाड़ों में बर्फबारी होने के आसार बन रहे हैं। बर्फबारी के बाद बफीर्ली हवा पहाड़ी इलाकों से होते हुए राजस्थान आएगी, इससे तापमान में भारी गिरावट होगी।
    वहीं, रबी की फसल के लिए मावठ का इंतजार कर रहे किसानों को अभी इंतजार करना पड़ सकता है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक 15 जनवरी तक बारिश या बूंदाबांदी के कोई आसार नहीं है। 5 साल बाद ऐसा होगा, जब आधी जनवरी बिना बारिश के निकल जाएगी।
    मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक 8-9 और 11-12 जनवरी को वेस्टर्न डिर्स्टबेंस का असर उत्तरी भारत में रहेगा। इससे मैदानों से आने वाली हवा रुकेगी और तापमान बढ़ने लगेगा। जयपुर समेत कई शहरों में रात का न्यूनतम तापमान 3-4 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ सकता है। गंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, चूरू, झुुंझुनूं, अलवर बेल्ट में घने कोहरे से लोगों को राहत मिलेगी। इधर चूरू, सीकर, टोंक, धौलपुर, करौली, भरतपुर समेत अन्य शहरों में शीतलहर से भी राहत मिल सकती है।