Saturday, December 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

चिरंजीवी योजना क्यों जरूरी है? गहलोत ने ट्वीट कर बताए फायदे

जयपुर

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्वीट कर एक खबर शेयर की है। उन्होंने ट्वीट में यह पूछा है कि चिरंजीवी योजना क्यों जरूरी है? गहलोत ने अपने ट्वीट में प्रतापपुरा की एक घटना का जिक्र करते हुए चिरंजीवी योजना के फायदे बताए हैं।

अशोक गहलोत ने शेयर की यह खबर
“प्रतापपुरा, अजमेर में 4 बच्चों सोनाराम गुर्जर, गोपाल गुर्जर, भोपराज गुर्जर, गोदाराम गुर्जर की डूबने से मृत्यु दुखद है। मैं ईश्वर से मृतकों की आत्मा को शांति एवं शोकाकुल परिजनों को हिम्मत देने की प्रार्थना करता हूं। इन सभी मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए सहायता दी जाएगी।

प्रदेशवासियों को मैं पुनः बताना चाहूंगा कि चिरंजीवी योजना में 10 लाख रुपए के स्वास्थ्य बीमा के साथ 5 लाख रुपए के दुर्घटना बीमा शामिल किया गया है जिससे आकस्मिक दुर्घटना की दुखद घड़ी में परिजनों को आर्थिक संबल मिल सके। प्रतापपुर, अजमेर के सभी मृतकों के परिवार चिरंजीवी योजना में शामिल हैं इसलिए उन्हें 5-5 लाख रुपये की आर्थिक सहायता मिलेगी।

योजना के अंतर्गत अभी तक दुर्घटना मृत्यु के शिकार 1007 मृतकों के परिजनों को 50.24 करोड़ रुपए सहायता राशि दी जा चुकी है। योजना में सड़क दुर्घटना, पानी में डूबना, ऊंचाई से गिरना, आग से जलना, करंट लगना, मकान गिरना इत्यादि दुर्घटनाओं से मृत्यु के प्रकरणों में सहायता राशि दी गई है।”

18 लाख से अधिक मरीजों का निशुल्क
बता दें कि चिरंजीवी योजना के अंतर्गत अब तक 2,200 करोड़ रूपए की राशि से 18 लाख से अधिक मरीजों का निशुल्क इलाज किया जा चुका है। सीएम गहलोत का स्वास्थ्य सेवाओं पर फोकस है। सीएम गहलोत ने बजट भाषण में स्वास्थ्य सेवाओं पर फोकस रखा था। सीएम गहलोत का कहना है कि प्रदेशवासियों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना उनकी सरकार की पहली प्राथमिकता है।