Thursday, December 8निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

गौतमबुद्धनगर में भी शहर का पानी भरा

यूआईटी और प्रशासनिक अधिकारियों ने किया निरीक्षण, सूरतगढ़ बाइपास पर खड्डों में छोड़ा पानी
श्रीगंगानगर।
शहर का बरसात पानी निकासी करने की प्रशासन के सामने बड़ी समस्या बन गई है। शहर के आस-पास खड्डे शहर के पानी से भर गए है। पानी निकासी की जगह देखने के लिए रविवार को यूआईटी और प्रशासनिक अधिकारियों ने निरीक्षण किया। इसके लिए सूरतगढ़ बाइपास के पास खड्डों को चिन्हित किया है। मिली जानकारी के अनुसार शहर में सेना तथा व्यापारियों द्वारा टेंकरों तथा पम्प सैट लगाकर बरसात का पानी निकालने का प्रयास कर रहे है। सूरतगढ़ रोड पर नाइवाला के पास खड्डे पानी से भर गए है। इस कारण शनिवार की रात को गौतमबुद्धनगर में पानी छोड़ दिया गया था, रविवार शाम तक वहां पर भी पानी से भरने के कागार पर पहुंच गया। इस कारण अधिकारियों के हाथ पांव फूल गए। यूआईटी सचिव मुकेश बारहठ, एसडीएम मनोज कुमार मीणा, एडीएम हरतिमा सहित कई अधिकारियों ने गौतमबुद्ध नगर तथा शहर के आस-पास शहर का पानी छोड़ने के लिए जगह को देखा। यूआईटी सचिव मुकेश बारहठ ने बताया कि शहर का पानी छोड़ने के लिए बड़ी समस्या है। नाईवाला के पास खड्डे और ठेके पर ली गई 20 बीघा जमीन में पानी भर गया है। गौतमबुद्धनगर की 100 बीघा में रात का पानी छोड़ा गया था। इसके बाद भी जगह की कमी है। रात को बाइपास और सद्भावना नगर (शमशान घाट)के पास खड्डों में पानी छोड़ा जाएगा। शहर में आज बरसात का पानी भरा हुआ है।