Monday, January 30निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

‘गहलोत को कुछ शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना था’:जयराम बोले- मुख्यमंत्री के शब्द अप्रत्याशित थे; व्यक्ति आते-जाते रहते, संगठन सबसे ऊपर

जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट खेमों के बीच जारी खींचतान राजस्थान से बाहर भी कांग्रेस में चर्चा का विषय बनी हुई है। गहलोत के पायलट को गद्दार कहने से शुरू हुआ विवाद बढ़ता ही जा रहा है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में भी गद्दार शब्द की गूंज सुनाई दे रही है।

इंदौर में रविवार को भारत जोड़ो की प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और कम्युनिकेशन सेल के चीफ जयराम रमेश ने गहलोत- पायलट विवाद पर फिर बयान देते हुए मतभेद की बात मानी है।

जयराम रमेश ने कहा- मैंने पहले भी कहा- मुख्यमंत्री के शब्द अप्रत्याशित (अनएक्सपेक्टेड) थे। मुख्यमंत्री को कुछ शब्दों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए था। शब्दों का जो इस्तेमाल किया, वे मेरे लिए अप्रत्याशित हैं। मुझे काफी आश्चर्य हुआ।

कुछ मतभेद हैं
जयराम रमेश ने कहा- राजस्थान के मुद्दे पर मैंने तीन बार बयान दिए हैं। अब चौथी बार दोहरा रहा हूं। गहलोत हमारी पार्टी के वरिष्ठ और अनुभवी नेता हैं। सचिन पायलट हमारी पार्टी के युवा, लोकप्रिय और ऊर्जावान नेता हैं। दोनों की हमारी पार्टी को जरूरत हैं । कुछ मतभेद हैं। जो शब्द मुख्यमंत्री की ओर से इस्तेमाल किए गए, जो अप्रत्याशित थे। मुझे भी आश्चर्य हुआ।