Saturday, December 10निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

खनन माफियाओं पर ऐक्शन में गहलोत सरकार, दो माह में वसूला साढ़े ग्यारह करोड़ रुपये का जुर्माना; दर्ज हुईं 746 एफआईआर

जयपुर
राजस्थान में खान विभाग ने खनन माफियाओं के खिलाफ पिछले दो माह में साढ़े ग्यारह करोड़ का जुर्माना वसूलने के साथ ही 746 एफआईआर दर्ज की हैं। इसके साथ ही इस दौरान 456 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह जानकारी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव डॉ. अग्रवाल ने शुक्रवार को किशनगढ़ में अजमेर वृत के खान एवं भू-विज्ञान विभाग के अधिकारियों की संयुक्त बैठक में दी। 

अग्रवाल ने बताया कि इस दौरान बड़ी मशीनों की जब्ती के साथ ही 2136 वाहन जब्त किए गए हैं। उन्होंने खनन माफियाओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई जारी रखने के निर्देश देते हुए कहा कि अवैध खनन के विरुद्ध सरकार जीरो टॉलरेंस की नीति पर कार्य कर रही है। पिछले दो माह से समूचे प्रदेश में अवैध खनन गतिविधियों के विरुद्ध माइंस एवं पुलिस प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई के सकारात्मक परिणाम प्राप्त हुए हैं। उन्होंने अजमेर वृत की उपलब्धियों को भी रेखांकित करते हुए अधिकारियों से इसी तरह से परस्पर समन्वय एवं सहयोग से कार्य करने का आग्रह किया। 

तमाम खनिजों के बड़े भंडार
डॉ अग्रवाल ने कहा कि खनिज प्लॉटों की नीलामी के लिए नए खनिज प्लाटों के डेलिनियेशन का काम तेजी से किया जाए। उन्होंने बताया कि अजमेर वृत में लाईम स्टोन, सेंड स्टोन, मार्बल, ग्रेनाइट, जप्सिम, बजरी, ग्रेवल, कंकर, मुर्रम, बॉलक्ले, फायर क्ले, चाइना क्ले, रेड व येलो ओकर, सिलिका सेंड, सेंड स्टोन, पट्टी कातला, खंडा, गारनेट सहित खनिजों के विपुल भण्डार है। क्षेत्र में बड़ी सीमेंट कंपनियां कार्य कर रही है।