Friday, February 3निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

कोहरे के कारण नहर में गिरी कार, 3 की मौत:गाड़ी के अंदर ही फंसे दोस्त; मोबाइल टॉर्च जलाकर मदद मांगते रहे

श्रीगंगानगर. राजस्थान में मौसम अब जानलेवा साबित हो रहा है। सुबह और रात में हो रही धुंध के कारण एक्सीडेंट बढ़ रहे हैं। शनिवार रात को भी घने कोहरे ने तीन लोगों की जान ले ली। विजिबिलटी कम होने के कारण कार गंगनहर में गिर गई। इसमें फंसे दो दोस्तों की डूबने से मौके पर ही मौत हो गई जबकि एक ने हॉस्पिटल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

एक्सीडेंट गंगानगर के साधुवाली में देर रात करीब 11 बजे हुआ। पुलिस के अनुसार हादसे में साधुवाली के रहने वाले दो किसान व एक पंजाब के किसान की मौत हो गई। मृतक रवींद्र (30 ) पुत्र सुभाष पंजाब के गांव गुमजाल का रहने वाला है। अजमेर सिंह (45) पुत्र सुरजीत सिंह और संजय (36 ) पुत्र पूर्ण सिंह साधुवाली के ही रहने वाले हैं।

हरियाणा नंबर की कार को गंगनहर से बाहर निकाल गया।

हरियाणा नंबर की कार को गंगनहर से बाहर निकाल गया।

दरअसल, तीनों किसान अपने एक परिचित के खेत पर गए थे। वहां से लौटते समय ये लोग खेत से नहर की पुलिया पर चढ़े ही थे। इस दौरान कार की स्पीड बढ़ाने से हादसा हो गया।

साधुवाली के पास स्थित गंगनहर के इसी एरिया में एक्सीडेंट हुआ। यहां नहर की गहराई भी अधिक है।

साधुवाली के पास स्थित गंगनहर के इसी एरिया में एक्सीडेंट हुआ। यहां नहर की गहराई भी अधिक है।

कार के नहर में गिरते ही दरवाजा खुल गया, लेकिन केवल संजय ही कार से बाहर निकल पाया। अजमेर सिंह और रवींद्र सिंह कार में फंसे रह गए। संजय ने कार से निकलकर किनारे की तरफ जाकर मोबाइल की रोशनी की।

इसी दौरान करीब से निकल रहे एक कार ड्राइवर ने संजय को बाहर निकाला और हॉस्पिटल पहुंचाया। हालांकि, इलाज के दौरान उसकी भी मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी।

रात होने के कारण बारी दोनों शवों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिला। रविवार सुबह नहर में फिर सर्च किया गया। घटनास्थल से कुछ दूरी पर अजमेर सिंह और रवींद्र के शव मिले।

घटना की जानकारी मिलने पर सुबह बड़ी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए। वहीं, मृतकों के परिवार को जब इसकी जानकारी दी गई तो वहां कोहराम मच गया।

घटना की जानकारी मिलने पर सुबह बड़ी संख्या में ग्रामीण जमा हो गए। वहीं, मृतकों के परिवार को जब इसकी जानकारी दी गई तो वहां कोहराम मच गया।

तीनों के शव श्रीगंगानगर के सरकारी हॉस्पिटल की मॉर्च्युरी में रखवाए गए हैं। साधुवाली के रहने वाले संजय का एक पंद्रह साल का बेटा है। जबकि अजमेर सिंह के दाे बेटे हैं। तीसरे मृतक रवींद्र का तीन साल का एक बेटा है।