Friday, December 9निर्मीक - निष्पक्ष - विश्वसनीय
Shadow

कोटा में फूड पॉइजनिंग का शिकार हुईं 2 दर्जन से अधिक छात्राएं, खाने में मिली छिपकली

कोटा।
राजस्थान के कोटा शहर के जवाहर नगर थाना इलाके में स्थित एक हॉस्टल में खाने में छिपकली गिरने का मामला सामने आया। इस दूषित खाने को खाने से करीब दो दर्जन से अधिक छात्राओं की तबीयत बिगड़ गई। जिनको उपचार के लिए निजी अस्पताल भेजा गया। इन छात्राओं को लगातार उल्टी दस्त की शिकायतें भी सामने आ रही हैं। फूड पॉइजनिंग के शिकार हुई इन छात्रों में से एक को अस्पताल में भर्ती किया गया। तो वहीं अन्य को उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। 
थाने में तैनात हेड कांस्टेबल को मिली थी शिकायत
दरअसल, जवाहर नगर थाने में तैनात हेड कांस्टेबल देवेंद्र सिंह को इस घटना की जानकारी दी गई थी। जिसके बाद उन्होंने तत्काल घटना की सूचना थानाधिकारी वासुदेव सिंह को दी। वहीं सूचना पर पुलिस अस्पताल पहुंची और छात्राओं के बयान लिए। जिसमें सामने आया की छात्राओं की तबीयत दूषित खाना खाने से बिगड़ी है। हॉस्टल संचालक हिमांशु मित्तल का कहना है कि एक छात्रा की थाली में खाना खाते समय छिपकली नजर आई। इसकी जानकारी छात्राओ ने कोचिंग संस्थान को फोन पर दी थी। जिसके बाद संस्थान से कुछ लोग भी हॉस्टल पहुंचे थे। छात्राओं की तबीयत खराब होने के बाद मौके पर ही डॉक्टरों को भी बुलाया गया। 

हॉस्टल में हैं 125 छात्राएं
संचालक मित्तल का कहना है कि उनके हॉस्टल में 125 छात्राएं रहती हैं। जिनमें से आधे से ज्यादा छात्राओं ने खाना खा लिया था। बाद में खाना खाने बैठी छात्राओं के खाने में इस तरह की शिकायत सामने आई थी। ऐसे में तत्काल ही दूसरी सब्जी बनवा कर छात्राओं को खाना खाने के लिए कहा गया। वहीं अस्पताल में भर्ती फूड प्वाइजनिंग की शिकार हुई छात्रा की तबीयत अब पहले से बेहतर बताई जा रही है।